DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईएएस एसोसिएशन में अचानक उलटफेर

उत्तर प्रदेश आईएएस एसोसिएशन के कार्यवाहक अध्यक्ष पद से बुधवार को अचानक श्रीमती नीरा को यादव हटा दिया गया। श्री संजय भूसरेड्डी को भी सचिव की कुर्सी से उतार दिया गया है। राजस्व परिषद के अध्यक्ष वी.के. मल्होत्रा तथा लखनऊ के जिलाधिकारी चन्द्रभानु को सर्वसम्मति से एसोसिएशन का नया अध्यक्ष और सचिव चुना गया है। इससे नाराज आईएएस अफसरों का एक गुट इस चयन को अवैधानिक बता रहा है। हालाँकि इस उलटफेर पर कोई आईएएस खुलकर सामने आने को कोई तैयार नहीं।ड्ढr उत्तर प्रदेश आईएएस एसोसिएशन कार्यकारिणी की बुधवार को यहाँ सीएसआई में विशेष बैठक बुलाई गई थी। पर बैठक में न नीरा यादव पहुँचीं न भूसरेड्डी पहुँचे। अध्यक्ष और सचिव की अनुपस्थिति में बैठक में मौजूद 1बैच के वरिष्ठतम अधिकारी व प्रमुख सचिव सूचना विजय शंकर पाण्डेय की अध्यक्षता में यह बैठक हुई। इसके बाद के अप्रत्याशित घटनाक्रम में एसोसिएशन के सदस्य अनिल सन्त और रेणुका कुमार ने एसोसिएशन की अध्यक्ष श्रीमती यादव और श्री रेड्डी पर संवर्ग के हितों की अनदेखी करने का आरोप लगाया। कई अन्य सदस्यों ने भी कहा कि अध्यक्ष और सचिव दोनों का न तो सरकार से संवाद है और न ही सदस्यों से कोई बातचीत है।ड्ढr सदस्यों ने कहा कि इन हालात में संवर्ग के हित सुरक्षित नहीं रह गए हैं। सदस्यों ने श्रीमती यादव और श्री रेड्डी को उनके पदों से हटाने का प्रस्ताव रख दिया, जिसका बैठक में मौजूद सभी अन्य सदस्यों ने सर्वसम्मति से समर्थन किया। सदस्यों ने नए अध्यक्ष के लिए 1बैच के आईएएस अधिकारी श्री मल्होत्रा तथा सचिव पद के लिए लखनऊ के जिलाधिकारी चन्द्रभानु के नाम का प्रस्ताव किया। जिसे वहाँ मौजूद करीब तीन दर्जन से ज्यादा सदस्यों ने सर्वसम्मति से पारित कर दिया।ड्ढr एसोसिएशन के कार्यवाहक अध्यक्ष पद से श्रीमती यादव और सचिव पद से श्री रेड्डी को हटाए जाने तथा श्री मल्होत्रा और श्री चन्द्रभानु को अध्यक्ष व सचिव सर्व सम्मति से नामित किए जाने की जानकारी एसोसिएशन के आधिकारिक प्रवक्ता ने दी है। दूसरी तरफ एसोसिएशन के सचिव पद से हटाए गए श्री रेड्डी ने स्पष्ट किया कि उन्होंने कार्यकारिणी की बुधवार को एक बैठक बुलाई तो थी लेकिन श्रीमती यादव के लखनऊ में मौजूद न होने के कारण बैठक स्थगित कर दी गई। श्री रेड्डी ने कहा कि उन्होंने बैठक स्थगित किए जाने की जानकारी कई सदस्यों को मौखिक रूप से दे दी थी। उन्होंने बुधवार को हुई बैठक को अवैध और असंवैधानिक करार दिया है। श्रीमती नीरा यादव ने भी देर रात फोन पर हिन्दुस्तान से कहा कि वही एसोसिएशन की निर्वाचित और संवैधानिक रूप से अध्यक्ष हैं। उन्हें कार्यवाहक अध्यक्ष,कार्यकारिणी ने नियमित तरीके से चुना था। श्रीमती यादव ने कहा कि उनके अध्यक्ष रहते कोई दूसरा अध्यक्ष नहीं हो सकता। उन्होंने भी श्री मल्होत्रा व श्री चंद्रभानु को अध्यक्ष व सचिव बनाए जाने की कार्रवाई को अवैधानिक करार दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आईएएस एसोसिएशन में अचानक उलटफेर