अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस भर्ती की सीबीआई जाँच नहीं कराएगा केंद्र

सीबीआई जाँच के लिए केन्द्र सरकार को भेजी गईं यूपी की ज्यादातर संस्तुतियों को खारिज कर दिया गया है। इनमें पुलिस भर्ती घोटाला, भाजपा का जहरीली सीडी प्रकरण और खाद्यान्न घोटाला भी शामिल है। हालाँकि राज्य गृह विभाग के अधिकारियों ने केन्द्र से ऐसी कोई जानकारी मिलने की पुष्टि नहीं की है।ड्ढr बुधवार को दिल्ली में गृह मंत्रालय व पुलिस की संयुक्त बैठक में यूपी से भेजे गए करीब दस ऐसे मामलों पर विचार-विमर्श हुआ, जिनमें सीबीआई जाँच करने का अनुरोध किया गया था। नोएडा प्लॉट घोटाला और किडनी चोरी कांड को छोड़ बाकी सभी मामलों को गृह मंत्रालय ने सीबीआई जाँच के काबिल नहीं पाया। मसलन पुलिस भर्ती घोटाले के बारे में यह तर्क दिया गया कि उत्तर प्रदेश सरकार पहले ही इस मामले में 25 आईपीएस अफसरों समेत 136 पुलिस अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा लिखा चुकी है। एक आयोग भी गठित किया गया है। खाद्यान्न घोटाले के बारे में कहा गया कि यह स्थानीय मामला है और राज्य की पुलिस इसकी जाँच करने में सक्षम है। भाजपा सीडी प्रकरण के बारे में कहा गया कि इस मामले की पुलिस पहले ही जाँच कर चुकी है। इसी तरह राजू पाल हत्याकांड, फैजाबाद का शशि हत्याकांड, केन्द्रीय मंत्री अजरुन सिंह की बहू का दहेज उत्पीड़न और जातीय विद्वेष पैदा करने वाली सीडी की जाँच से जुड़े मामले शामिल हैं। पाल हत्याकांड में पुलिस ने अदालत में आरोपपत्र दाखिल किया है। इस मामले में सीबीआई तब तक जाँच शुरू नहीं कर सकती जब तक कोर्ट अनुमति न दे दे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पुलिस भर्ती की सीबीआई जाँच नहीं कराएगा केंद्र