DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राज्य सभा केसभी दलीय प्रत्याशी विजयी

बिहार से राज्यसभा की पांच सीटों के लिए बुधवार को हुए मतदान में सभी दलीय उम्मीदवारों की जीत हो गई। विधानसभा के सचिव एवं इस चुनाव के निर्वाची अधिकारी एसपी शर्मा ने देर शाम केंद्रीय मंत्री एवं राजद उम्मीदवार प्रेम गुप्ता, भाजपा के डा. सीपी ठाकुर, जदयू के शिवानंद तिवारी, एनके सिंह और लोजपा के साबिर अली के निर्वाचित होने की घोषणा की। निर्दलीय गोविन्द पांडेय को सिर्फ एक वोट मिला। यह वोट निर्दलीय विधायक प्रदीप कुमार जोशी का था। सबसे अधिक 55 विधायकों ने भाजपा के डा. सीपी ठाकुर को वोट दिया। भाजपा विधायकों के मतदान का प्रतिशत शत-प्रतिशत रहा। जदयू के शिवानंद तिवारी को 48, एनके सिंह को 47, राजद के प्रेम गुप्ता को 44 और लोजपा के साबिर अली को 40 विधायकों का वोट मिला।ड्ढr ड्ढr 243 सदस्यीय बिहार विधानसभा में 235 विधायकों ने मतदान में भाग लिया। भाकपा माले के पांच सदस्यों ने मतदान का बहिष्कार किया, जबकि निजी कारणों से जदयू के दो और राजद के एक विधायक मतदान में शामिल नहीं हो पाए। विधायकों की गोलबंदी का हिसाब यह रहा कि यूपीए और एनडीए दोनों को अपनी क्षमता से अधिक वोट मिला। बसपा सहित यूपीए के घटक दलों के विधायकों की संख्या 81 है। इसमें राजद के रामदास राय मतदान में शामिल नहीं हुए। इसके बावजूद राजद के दोनों उम्मीदवारों को 84 विधायकों का वोट मिला। राजद को चार अतिरिक्त विधायकों का वोट मिला।ड्ढr ड्ढr निर्दलीय विजेंद्र चौधरी ने कहा कि उन्होंने राजद को नहीं, बल्कि वैश्य समाज से आनेवाले राजद के प्रत्याशी प्रेम गुप्ता को वोट दिया। एनडीए को भी आठ विधायकों का अतिरिक्त वोट मिला। जदयू के विधायक छेदी पासवान, मनोरंजन सिंह क्रमश: अस्पताल और जेल में रहने के कारण मतदान में शामिल नहीं हुए। एनडीए के विधायकों की कुल संख्या 144 है। इसके दो सदस्य नहीं आए। फिर भी एनडीए के तीन उम्मीदवारों को 150 वोट मिला। इसमंे दो सपा विधायक और छह निर्दलीय हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राज्य सभा केसभी दलीय प्रत्याशी विजयी