DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माआेवादी हारे तो नतीजे कबूल नहीं : प्रचंड

नेपाल में कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ नेपाल (माआेवादी) के अध्यक्ष प्रचंड ने कहा है कि दस अप्रैल को होने वाले संविधान सभा चुनावों में उनकी पार्टी की हार होने की सूरत मे उसके नतीजे अस्वीकार्य होंगे। नेपाली अखबार ‘दि राइजिंग नेपाल’ के अनुसार प्रचंड ने पूर्वी नेपाल के पाथेरी में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि ऐसा कोई भी नतीजा स्वीकार नहीं किया जाएगा, क्योंकि माआेवादियों को सिर्फ राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतिक्रियावादी ताकतों की साजिश रचे जाने पर ही परास्त किया जा सकता है। उन्हांेने कहा कि सी पी एन-यूएमएल गठबंधन अमेरिकी और भारतीय दबाव की वजह से नहीं बन सका। उन्होंने दावा किया कि पूर्वी नेपाल में माआेवादियों को पश्चिमी नेपाल की तुलना में यादा समर्थन हासिल है। उन्होंने कहा कि देश भर में माआेवादियों के प्रति बढ़ता जनसमर्थन देखकर प्रतिक्रियावादी ताकते सीपीएन (माआेवादी) को परास्त करने की साजिशें रचने में जुट गई हैं। उन्होंने कहा कि संसदीय दलों को सीपीएन (माआेवादी) से क्षमा मांगनी चाहिए, क्योंकि जब पार्टी संविधान सभा और संघीय गणराय प्रणाली का मसला उठाते थे वह उसे आतंकवादी करार देती रही हैं। नेपाल में नए संविधान का निर्माण करने और राजशाही का भविष्य तय करने के लिए पहली बार संविधान सभा के चुनाव होने जा रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: माआेवादी हारे तो नतीजे कबूल नहीं : प्रचंड