अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गणेशपुरी में खसरा से बच्चे की मौत

ऐशबाग के गणेशपुरी इलाके में फैले खसरा से शुक्रवार की रात एक बच्चे की मौत हो गई। क्षेत्र में दहशत का माहौल है। मोहल्ले मंे ज्यादातर बच्चे खसरा की चपेट में आ गए हैं। वहीं, काकोरी के भलिया गाँव में भी खसरा फैल गया है।ड्ढr गणेशपुरी में पिछले एक हफ्ते से खसरा फैला हुआ है। क्षेत्र के लोगों को कहना है कि सीवर के गंदे पानी व कूड़ों के ढेर से इलाके मेंगदंगी फैली हुई है। नालियाँ बजबजा रही हैं। उनका कहना है कि पेयजल की सप्लाई दूषित हो रही है। जिसके चलते बीमारियाँ फैल रही हैं। खसरा से पीड़ित सचिन को रानी लक्ष्मी बाई चिकित्सालय भर्ती कराया गया था। अभिभावकांे ने अस्पताल में उचित इलाज नहीं होने का आरोप लगाया था। इसके चलते वह सचिन को घर ले आए थे, जहाँ शुक्रवार की रात सचिन की मौत हो गई। क्षेत्रीय निवासी परेश रावत ने बताया कि सावित्री, अंकुर, मुस्कान, कृष्णा, राजीव, रितु, जुबेर साहित करीब एक दर्जन से अधिक बच्चे खसरा से पीड़ित हैं। वहीं, काकोरी विकास खण्ड क्षेत्र की ग्राम पंचायत भलिया में खसरे ने दर्जनों बच्चों को चपेट में ले लिया है। उप स्वास्थ्य केन्द्र से सहायता न मिलने की वजह से ग्रामीण परेशान हैं। एएनएम से सम्पर्क कर मदद भी माँगी पर कोई लाभ न हुआ। भलिया में संजू, पूनम, अजय, रंजना, अंजू, काजल, विशाल, रामू, मुन्नू, रिंकी, बब्लू, पिंकी, सोनी, करन, अमन, विशाल समेत कई बच्चे खसरे की चपेट में आ गए हैं। ग्राम प्रधान आनन्द कुमार व ग्रामीणों ने बताया कि नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र पर तीन हफ्ते से एएनएम नहीं आ रही हैं। काकोरी सीएचसी प्रभारी डॉ. एपी पाण्डेय ने बताया कि तत्काल मौके पर स्वास्थ्य दल भेजा जाएगा और एएनएम की लापरवाही पाए जाने पर उसके विरुद्ध कठोर कार्रवाई होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गणेशपुरी में खसरा से बच्चे की मौत