अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गिलानी ने भी अलापा कश्मीर का राग

अपने पहले नीतिगत भाषण मंे पाकिस्तान के नव नियुक्त प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने शनिवार को कहा कि कश्मीरी लोगों की कुर्बानी जाया नहीं होगी। उन्होंने कहा कि कश्मीर मुद्दे को सुलझाने के दौरान उनकी ‘इच्छाआें और कामनाआें’ को भी सामने रखा जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने हथियार छोड़ने वाले आतंकवादियों से बातचीत की पेशकश भी की। गिलानी का बयान पीपीपी के अध्यक्ष आसिफ अली जरदारी की उस टिप्पणी के एकदम उलट है, जिसमें जरदारी ने कहा था कि वह कश्मीर के मसले को परे रख भारत के साथ संबंध सुधारने पर ध्यान देने के लिए तैयार हैं। प्रधानमंत्री के बयान ने कश्मीर पर पाकिस्तान के पक्ष को दोबारा ताकत दे दी है और यह इस बात का भी संकेत है कि वह इस मामले में तीसरे पक्ष का हस्तक्षेप चाहते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गिलानी ने भी अलापा कश्मीर का राग