अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक किमी जाने में लगे दो घंटे!

घटना की सूचना मिलने के बाद दानापुर जीआरपी को एक किलोमीटर दूरी तय करने में दो घंटे लग गए। इस दरमियान कई महत्वपूर्ण ट्रनें दानापुर समेत अन्य स्टेशनों रुकी रहीं। यह हाल दानापुर जीआरपी का है। जानकारी के अनुसार सोमवार की सुबह लगभग साढ़े छह बजे दानापुर जीआरपी को खबर मिली कि दानापुर पूर्वी केबिन के आउटडोर सिगनल की डाउन लाइन पर एक अज्ञात व्यक्ित की पैर कटी लाश पड़ी है। घटना की सूचना पर डाउन लाइन की ट्रनों को विभिन्न स्टेशनों पर रोक दिया गया और लाश हटाने की कार्रवाई शुरू हो गई। इस दौरान दानापुर स्टेशन पर जनसाधारण एक्सप्रस, सहरसा इंटरसिटी, राजगीर सवारी गाड़ी एवं अन्य गाड़ियां रुकी रहीं। जब जीआरपी ने शव को डाउन लाइन से हटाया, उसके बाद साढ़े 8 बजे आवागमन शुरू हुआ। जीआरपी ने बताया कि 35 वर्षीय अज्ञात व्यक्ित की पहचान नहीं हो सकी है। ग्रिड स्टेशन पहुंचे ग्रामीण : मोकामा (सं.सू.)। प्रखंड में चल रही बिजली की आंखमिचौनी से परशान ग्रामीण बिपिन बिहारी के नेतृत्व में हथिदह ग्रिड स्टेशन पहुंच कार्यपालक इांीनियर जगदीश प्रसाद सिंह से मुलाकात की। ज्ञात हो कि विद्युत आपूर्ति में कमी से मोकामा शहर और आसपास के इलाकों में लोगों को पानी की किल्लत भी झेलने को विवश होना पड़ रहा है। सूत्रों के अनुसार एमआरटी की उदासीनता एवं लापरवाही के कारण हथिदह ग्रीड में स्थापित 20 एमबीए के ट्रांसफार्मर को चालू नहीं किया जा सका है। बताया जाता है कि विद्युत बोर्ड के चेयरमैन सपन मुखर्जी ने महीनों पूर्व विद्युत व्यवस्था में सुधार हेतु 20 एमबीए के ट्रांसफार्मर को चालू नहीं किया जा सका है। बताया जाता है कि विद्युत बोर्ड के चेयरमैन सपन मुखर्जी ने महीनों पूर्व विद्युत व्यवस्था में सुधार हेतु 20 एमबीए ट्रांसफार्मर लगाने का आदेश दे चुके हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एक किमी जाने में लगे दो घंटे!