अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुच्ची ब्रांड्स के लिए भारत तैयार

गुच्ची ब्रांड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी(सीईओ) मार्क ली कहते हैं कि गुच्ची के लक्जरी ब्रांड्स के लिए अब भारत का मार्केट तैयार हो चुका है। इधर उनके ब्रांड्स को खरीदने वालों की कोई कमी नहीं है। फिलहाल उनके दिल्ली और मुम्बई में एक-एक शो-रूम है। आने वाले समय में बैंगलूर और दिल्ली में एक साथ और शो-रूम खुलेगें। मिंट-हिन्दुस्तान टाइम्स लक्जरी कांफ्रेस में भाग लेने आए 45 साल के ली ने कहा कि वे भारत में अपनी फ्रेंचाइज देंगे। भविष्य में खुलने वाले स्टोरों में 75 प्रतिशत उनकी हिस्सेदारी रहेगी और बाकी फ्रेंचाइज लेने वाली कंपनी की। एक सवाल के जवाब में मार्क ली ने कहा कि सभी प्रमुख ब्रांड्स से जुड़ी कंपनियों को मालूम है कि अब भारत तैयार है चोटी के ब्रांड्स की खपत के लिए। जाहिर है कि इसलिए लक्जरी ब्रांड्स पर यह कांफ्रेस भी हो रही है और साथ ही सभी नामवर ब्रांड्स इधर आने की स्ट्रेटेजी बनाने में लग गए हैं। ली ने बताया कि अमेरिकी अर्थव्यवस्था में मंदी के चलते अब गुच्ची एशियाई देशों में खासतौर पर तवज्जो दे रहा है। भारत के साथ-साथ चीन, जापान और साउथ कोरिया पर उसका खासतौर पर फोकस रहने वाला है। इन सभी देशों में गुच्ची के स्टोर तेजी से खुलते रहेंगे। उन्होंने कहा फिलहाल तो चीन में वे अपने 1टोर खोल चुके हैं, पर अगर बात अगले दस सालों की हो हम भारत में चीन से अधिक स्टोर खोल लेंगे। लेदर के साथ कपड़ों के अपने उत्पादों के लिए पूरी दुनिया में अपनी पहचान बना चुके गुच्ची ब्रांड अपने इस मुकाम पर पहुंचा कैसे है? कोई ब्रांड ग्राहकों की कमजोरी किस कारण से बन जाता है? मार्क ली का संक्षिप्त उत्तर था-क्वालिटी। अपनी क्वालिटी के साथ हम किसी भी कीमत पर समझौता नहीं करते। जाहिर है कि इसीलिए हमारा ग्राहकों से अटूट रिश्ता बन जाता है। तो क्या गुच्ची के उत्पादों की नकल करके भी बाजार में बेचा जा रहा है? मार्क ली ने बताया कि बिल्कुल। वे भी इस समस्या से जूझ रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गुच्ची ब्रांड्स के लिए भारत तैयार