अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अंकुर को लोहा सिंह स्मृति पुरस्कार

‘जो शहिद हुए हैं उनकी बर्बाद गई कुर्बानी’ गीत के साथ शुरू नाटक ‘कहानी अभी खत्म नहीं हुई’ की कथानक व उसक कलाकारों की उम्दा अभिनय ने लोगों को झकझोर दिया। समसायिक विषय नेता-पुलिस व अपराधी के गठजोड़ से उत्पन्न हुई देश की हालात को नाटककार न जिवंत प्रस्तुत किया। विकलांग फौजी की भूमिका में कलाकार ददन सिंह, नेता की भूमिका में शमिम, थानेदार की भूमिका में धर्मेन्द्र सहित गीता, संजय, कृपाशंकर, वंदना, आलोक, सूर्यवंश, मनन जी इत्यादि सभी कलाकारों ने बेहतरीन अभिनय प्रस्तुत किया।ड्ढr ड्ढr नाटक की समाप्ति तक दर्शकों की भीड़ जमी रही। स्थानीय शेरशाह सूरी इंटरस्तरीय विद्यालय के प्रांगण में अपराजय निराला नाटय़ संस्था द्वारा आयोजित दो दिवसीय नाटय़ प्रस्तुति का उद्घाटन राष्ट्रय नाटय़ विद्यालय दिल्ली के पूर्व निदेशक देवन्द्र राज अंकुर ने की। मुख्य अतिथि यूपी कालज के डा.रामसुधार सिंह ने महाकवि निराला के जीवन पर प्रकाश डाला। संस्था द्वारा महान नाटककार रामेश्वर सिंह काश्यप लोहा सिंह स्मृति पुरस्कार श्री अंकुर को प्रदान किया गया। श्री अंकुर ने लेखक-निर्देशक विद्याशंकर द्वारा रचित नाटय़ पुस्तक ‘आेवर कोट’ का विमोचन किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अंकुर को लोहा सिंह स्मृति पुरस्कार