अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हाई वोल्टेज टूर्नामेंट के लिए तैयार हाईटेक सिटी

देश की हाईटेक सिटी का खूबसूरत गाची बाउली स्टेडियम बैडमिंटन के हाई वोल्टेज टूर्नामेंट के लिए तैयार है। सुबह हुई बारिश ने भी मौसम को अच्छा बना दिया है। प्रेस क्लब से गाची बाउली स्टेडियम के करीब 20 किलोमीटर के रास्ते में कई जगह सनराइज इंडिया ओपन ग्रा. प्री. 2008 के पोस्टर लगे हैं जिन पर चेतन आनंद, रूपेश कुमार सहित विदेशी खिलाड़ियों की तस्वीरें हैं। इन पोस्टरों से साबित होता है कि क्रिकेट के जुनून के बीच अभी इस शहर में बैडमिंटन के लिए थोड़ी-बहुत दीवानगी बची हुई है। भारत में अब तक के सबसे बड़े बैडमिंटन टूर्नामेंट के लिए स्टेडियम में चार कोर्ट तैयार हैं जिन पर मंगलवार क्वालीफाइंग मुकाबलों के बाद एक अप्रैल से मुख्य ड्रॉ के मैच शुरू होंगे। दुनिया के कई प्रमुख खिलाड़ियों के आने से यह टूर्नामेंट खासकर भारतीय खिलाड़ियों के लिए काफी महत्वपूर्ण साबित होने जा रहा है। नहीं खेलने वाले खिलाड़ियों को भी विदेशी खिलाड़ियों का खेल देखने और उनसे कुछ सीखने का मौका मिलेगा। हालांकि इंडोनेशिया के पांच खिलाड़ियों के नहीं खेलने से मुकाबले की गर्मी में कुछ नरमी आ सकती है लेकिन अन्य अधिकांश खिलाड़ियों की मौजूदगी से इसके हाई वोल्टेज रहने की उम्मीद है। विदेशी खिलाड़ियों के हटने के बाद सोमवार को कुछ उलटफेर करके आखिरी ड्रॉ निकाला गया। उसके बाद मुख्य राष्ट्रीय कोच गोपी चंद ने उम्मीद जताई कि अनूप श्रीधर के नहीं होने के बावजूद भारतीय चुनौती कमजोर नहीं पड़ेगी। इंडोनेशिया की महिला खिलाड़ी रत्नासारी फ्रेंसिस्का के हटने से भारत की अदिति मुटाटकर को मुख्य ड्रॉ में प्रवेश मिल गया है। अब पहले दौर में उनका मुकाबला थाइलैंड की सोरात्जा चैंसरिसुकोट से होगा। हालांकि इसमें उन्हें कड़ी चुनौती झेलनी पड़ेगी क्योंकि विदेशी खिलाड़ी रैंकिंग में उनसे काफी ऊपर है। महिलाओं के वर्ग में भी जर्मनी और मलयेशिया की चौथी और पांचवीं वरीयता की खिलाड़ियों के हटने से मुकाबले की धार कुछ कम हो सकती है। भारत के लिए पुरुष डबल्स में भी वी दीजू-अक्षय दिवालकर तथा एल्विन फ्रांसिस-शंकर गोपन की जोड़ी को फायदा हुआ। अब उन्हें सीधे मुख्य दौर में खेलने का मौका मिला है। लेकिन इसके अलावा महिला वर्ग में धान्या नायर, अपर्णा बालन, एन सिकी रेड्डी और गायत्री वार्तक को क्वालीफाइंग राउंड में खेलना है। इसके लिए उन्होंने आज करीब तीन सत्र में प्रैक्िटस भी की। भारतीयों के अलावा आज देर रात तक विदेशी खिलाड़ियों ने भी कड़ी प्रैक्िटस की। पुरुष वर्ग में चौथे वरीय कोरिया के पार्क सुंग वान ने उम्मीद जताई की वे अच्छा प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा, यहां का टर्फ ठीक है, लेकिन एसी नहीं होने के कारण छोड़ी परेशानी हो रही है। फिर भी गर्मी के बावजूद उम्मीद है कि अपना स्वाभाविक खेल दिखा सकूंगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हाई वोल्टेज टूर्नामेंट के लिए तैयार हाईटेक सिटी