अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फरवरी में निर्यात 35 प्रतिशत बढ़ा

देश विदेश की कठिन परिस्थितियों के बीच निर्यात क्षेत्र ने फरवरी 2008 में एक वर्ष पूर्व की तुलना में डॉलर के हिसाब से 35.25 प्रतिशत अधिक का निर्यात किया। वाणिय मंत्रालय के जारी आंकडों के अनुसार फरवरी 08 में देश का वाणियिक निर्यात 14.24 अरब डॉलर के बराबर रहा, जबकि पिछले वर्ष इसी माह 10.53 अरब डॉलर का निर्यात हुआ था। देश के निर्यात क्षेत्र की मासिक वृद्धि दर चालू वित्तीय वर्ष में काफी उतार चढ़ाव भरी रही है, पर कुल मिला कर इसके औसतन 20 प्रतिशत के आस पास रहने की उम्मीद की जा रही है। सरकार ने 2007-08 में 160 अरब डॉलर के निर्यात का लक्ष्य रखा है। वाणिय मंत्री कमलनाथ का कहना है कि हम कठिन परिस्थितियों के बावजूद लक्ष्य तक पहुंच जाएंगे। अमेरिका के गृह ऋण बाजार में खलबली और डॉलर के मुकाबले रुपए की विनिमय दर में एक वर्ष के अंदर 12 प्रतिशत की मजबूती से उत्पन्न कठिनाइयों के बीच फरवरी में निर्यात में 35 प्रतिशत की वृद्धि उल्लेखनीय मानी जा रही है। इस बार फरवरी माह के दौरान आयात 18.47 अरब डॉलर रहा, जो पिछले वर्ष फरवरी के 14.15 अरब डॉलर से 30.53 प्रतिशत अधिक है। फरवरी में व्यापार घाटा 4.23 अरब डॉलर के बराबर रहा। कल समाप्त हुए वित्तीय वर्ष में अप्रैल-फरवरी 2007-08 के 11 महीनों के दौरान निर्यात 138.43 अरब डॉलर और आयात 211 अरब अरब और व्यापार घाटा 72.47 अरब डॉलर के बराबर रहा। इन ग्यारह महीनों में निर्यात की वृद्धि दर 22.0 प्रतिशत और आयात की वृद्धि 30.21 प्रतिशत रही है। फरवरी 08 में पेट्रोलियम आयात 6.27 अरब डॉलर के बराबर और गैर पेट्रोलियम आयात 12.1अरब डॉलर रहा। पेट्रोलियम आयात बिल में फरवरी में वृद्धि एक वर्ष पूर्व की तुलना में 3प्रतिशत अधिक रही। अप्रैल फरवरी, 07-08 में पेट्रोलियम आयात 66 अरब डॉलर से कुछ अधिक रहा, जो पिछले वर्ष की दौरान से 26.8 प्रतिशत अधिक है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: फरवरी में निर्यात 35 प्रतिशत बढ़ा