DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आखिर महासंग्राम में युवराज को उतारना पड़ा कांग्रेस को

यूपी मंे कांग्रेस के पुनर्जन्म के लिए खुद सोनिया गांधी को पहल करनी पड़ी है और यहाँ के महासंग्राम में अपने युवराज राहुल को उतारना पड़ा है। राहुल यूपी की सड़कों पर संघर्ष करेंगे तो उसका असर पड़ेगा। अब कांग्रेसियों को तय करना है कि आगे उनकी राह क्या होगी।ड्ढr यूपी में कांग्रेस टूट कर बिखर चुकी है। कार्यकर्ताआें में जोश नहीं बचा। नेताआें का ज्यादा वक्त लखनऊ और दिल्ली में गुजरता है। ऐसे नेताआें की जंग छुड़ाना आसान नहीं। छब्बीस साल बाद पहली बार यूपी कांग्रेस के सारे सदस्य एक मंच पर एकत्र हुए। माना जाता है कि यही पीसीसी सदस्य ब्लाक से लेकर बूथ तक सीधा कार्यकर्ताआें के सम्पर्क में रहते हैं। लेकिन यह सच नहीं हैं। कांग्रेस के कई सदस्य तो ऐसे हैं जो अपनी जेब से सदस्यता शुल्क देकर हजारों सदस्य बनाते हैं। अधिवेशन में साफ हुआ कि अब बोगस सदस्यता नहीं चलेगी। संगठन का ढाँचा बदलेगा। लेकिन ढाँचा बदलना इतना आसान नहीं। आजमगढ़ कभी कांग्रेस का गढ़ हुआ करता था आज वहाँ उपचुनाव में खड़ा करने के लिए पार्टी को उम्मीदवार नहीं मिला।ड्ढr ऐतिहासिक नानाराव पार्क में कांग्रेस को अपने कार्यकर्ताआें को देने के लिए न कोई स्पष्ट कार्यक्रम था न संदेश। यूपी कांग्रेस ने अब तक अपनी कार्यकारिणी नहीं बनाई। सो, रीता बहुगुणा जोशी को अपनी टीम के भरोसे ही पूरा आयोजन करना पड़ा। जबकि कानपुर में केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री पूरे जलसे के अकेले कर्णधार थे। अधिवेशन में पार्टी अपनी दिशा नहीं तय कर पायी। जब मंच पर श्रीमती जोशी मुलायम पर निशाना साध रही थीं तब पंडाल के पीछे प्रदेश प्रभारी दिग्विजय सिंह महान कूटनीतिज्ञ चर्चिल को याद कर इलेक्ट्रानिक मीडिया को बाइट दे रहे थे कि ‘राजनीति में कोई स्थायी दोस्त या स्थायी दुश्मन नहीं होता।’ नेताआें के अलग-अलग बयानों से बेवजह भ्रम की स्थिति पैदा हुई। इतने महत्वपूर्ण अधिवेशन में केन्द्रीय मंत्री महावीर प्रसाद नहीं आए। जर्नादन द्विवेदी यूपी कोटे से एआईसीसी सदस्य बनते रहे हैं। वह महासचिव हैं लेकिन इस अधिवेशन में नहीं आए। ऐसी सेना को लेकर चक्रव्यूह भेदना राहुल के लिए एक बड़ी चुनौती होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आखिर महासंग्राम में युवराज को उतारना पड़ा कांग्रेस को