अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इसी साल से आईजीआईएमएस में पढ़ाई

इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान(आईजीआईएमएस) में इस वर्ष से मेडिकल की पढ़ाई शुरू हो जाएगी। साथ ही अस्पताल की सभी मशीनों को सुचारू ढंग से चलाने के लिए भी सरकार प्रयत्नशील है। स्वास्थ्य मंत्री चंद्रमोहन राय ने मंगलवार को विधान परिषद में लोजपा के संजय सिंह के तारांकित प्रश्न के जवाब में यह घोषणा की।ड्ढr ड्ढr उन्होंने कहा कि अस्पताल में लैब की स्थापना की गयी है। नई मशीनों की खरीद के लिए 5 करोड़ रुपए उपलब्ध कराए गए हैं। अस्पताल में 24 घंटे की ओपीडी सुविधा उपलब्ध करायी जा रही है। साथ ही मंत्री ने अस्पताल में मशीनों को ठप किए जाने और बिना टेंडर सुरक्षा पर करोड़ों रुपए के भुगतान किए जाने संबंधी किसी प्रकार की शिकायत से इनकार किया। इसके पहले श्री सिंह ने सरकार से पूछा था कि क्या यह सही है कि आईजीआईएमएस में अभी तक ओपीडी की सुविधा तथा मेडिकल की पढ़ाई शुरू नहीं हो सकी है। साथ ही उन्होंने यह भी जानना चाहा कि संस्थान की कई मशीन को ठप कर निजी संस्थानों को लाभ पहुंचाया जा रहा है और बिना टेंडर के सुरक्षा व्यवस्था के नाम पर करोड़ों का भुगतान किया जा रहा है।ड्ढr ड्ढr वहीं डॉ.रामवचन राय के अल्पसूचित प्रश्न के जवाब में स्वास्थ्यमंत्री ने माना कि आईजीआईएमएस में लेप्रोस्कोपिक सर्जरी मशीन खराब है। साथ ही उन्होंने कहा कि नई मशीन के क्रय के लिए वर्ष 2007 में अस्पताल के योजना मद से राशि उपलब्ध करा दी गयी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: इसी साल से आईजीआईएमएस में पढ़ाई