अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पानी के लिए लोगों ने बेली रोड जाम किया

पिछले पांच दिनों से बूंदबूंद पानी के लिए तरस रहे राजधानी के दो मुहल्लों के लोगों का आक्रोश मंगलवार को भड़क उठा। शेखपुरा और आदमी गांव के लोगों ने शेखपुरा मोड़ पर बेली रोड को जाम कर दिया। सड़क जाम की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तर लोगों को हटाया।ड्ढr ड्ढr शेखपुरा स्थित जलापूर्ति पंप का मोटर शुक्रवार की सुबह जल गया था। नगर निगम की जलापूर्ति शाखा द्वारा वैकल्पिक व्यवस्था के तौर पर शनिवार से दो हजार लीटर क्षमता के एक-एक टैंकर से दोनों मुहल्लों में पेयजल उपलब्ध कराया जा रहा था। लेकिन दोनों मुहल्लों को मिलाकर लगभग 13 हजार की आबादी के लिए इतना पानी दवा के रूप में ही उपलब्ध हो पा रहा है। 0 फीसदी लोगों को तो वह भी नहीं मिल रहा है। पेयजल के बिना गरीबों की हालत खराब है। पार्षद आभा लता, शेखपुरा के उदय ठाकुर, अनिल राम, गोपाल कृष्ण, दिनेश प्रसाद, रंजीत गुप्ता, आदमी गांव के रमेश कुमार, मोहन यादव, उमेश कुमार ने बताया कि 24 घंटे में मात्र एक टैंकर पानी उपलब्ध कराया जाता है। टैंकर बेली रोड पर रहता है। सुबह से पानी के लिए लाइन लगानी पड़ती है।ड्ढr ड्ढr पिछले पांच दिनों से शिकायत दर्ज करायी जा रही है पर कोई सुनने वाला नहीं है। गरीब तबके के लोग आसपास के निजी बोिरग वालों, चापाकल व कुआं पर आश्रित हैं। इस संबंध में नगर निगम जलापूर्ति शाखा के कार्यपालक पदाधिकारी बीएन सिंह ने बताया कि पर्याप्त मात्रा में अतिरिक्त पंप व मोटर नहीं हैं। जलापूर्ति पंपों पर अलग-अलग हार्स पावर के मोटर लगे हैं। ऐसी स्थिति में मोटर जलने या पंप में खराबी आने पर समास्या उत्पन्न हो जाती है। खराब हुए पंप एवं मोटर के ठीक होने के बाद ही जलापूर्ति शुरू हो सकती है। इस कार्य में कम-से कम दो दिनों का समय लगता है। विशेष गड़बड़ी होने पर अधिक समय लगता है। उन्होंने बताया कि शेखपुरा जलापूर्ति पंप का मोटर ठीक हो गया है, देर रात तक पंप चालू हो जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पानी के लिए लोगों ने बेली रोड जाम किया