DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मिसाइल रक्षा प्रणाली पर बुश-पुतिन समझौता संभव

सी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज बुश 6 अप्रैल को मिसाइल सुरक्षा प्रणाली से संबधित समझौते पर हस्ताक्षर कर सकते हैं। क्रेमलिन के सूत्र के अनुसार दोनों राष्ट्रपति काला सागर स्थित पर्यटक स्थल साक्ची में पूर्वी यूरोप में नाटो के विस्तार और पोलैंड तथा चेक गणराज्य में मिसाइल प्रतिरोधक सुरक्षा प्रणाली की तैनाती के मुद्दे पर विस्तृत चर्चा करेंगे। रूस के अनुसार विशेषज्ञ समझौते के लिए प्रस्ताव तैयार करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं। दोनों राष्ट्रपतियों के संयुक्त बयान में यह मुद्दा शामिल होगा। गौरतलब है कि इसके पहले बुश ने मंगलवार को कहा था कि पौलैंड और चेक गणराज्य में मिसाइल सुरक्षा प्रणाली की तैनाती को स्वीकार करने के बदले जॉर्जिया और युक्रेन में नाटो के विस्तार को रोकने की रूस की मांग को स्वीकार नहीं किया जाएगा। युक्रेन के राष्ट्रपति विक्टर युश्चेंको से बात करने के बाद बुश ने संवाददाता सम्मेलन में दोनों पूर्व सोवियत गणराज्यों के नाटो में शामिल होने के अनुरोध का समर्थन करने का संकेत दिया था। रूस पहले भी अपनी सीमा से सटे देशों में नाटो के विस्तार का विरोध कर चुका है। फरवरी में रूस ने युक्रेन द्वारा नाटो में शामिल होने और अपने देश में सैनिक गतिविधियों की अनुमति देने से रोकने के लिए उस पर मिसाइल हमले की धमकी दी थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मिसाइल रक्षा प्रणाली पर बुश-पुतिन समझौता संभव