अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कार्टर दंपति नेपाल में चुनाव पर रखेंगे नजर

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जिमी कार्टर और उनकी पत्नी रोजालीन नेपाल में संविधान सभा के लिए 10 अप्रैल को होने वाले चुनाव पर नजर रखने के लिए बतौर पर्यवेक्षक यहां आएंगे। ये दंपति नेपाल में कार्टर सेंटर के अंतरराष्ट्रीय चुनाव पर्यवेक्षण प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करेगा। कार्टर सेंटर की आेर से जारी बयान में बताया गया है कि थाईलैंड के पूर्व उप प्रधानमंत्री सुराकिआर्त सातिरताई प्रतिनिधिमंडल के नेतृत्व में कार्टर दंपति के सहायक की भूमिका निभाएंगे। कार्टर सेंटर के इस अभियान में 20 से अधिक देशों के 60 से अधिक पर्यवेक्षक शामिल किए जाएंगे, जो पूरे नेपाल में चुनाव कार्यो पर नजर रखेंगे। इन नेताआें के सात अप्रैल को काठमांडू पहुंचने की संभावना है और उनकी योजना चुनाव आयोग कार्यालयों, राजनीतिक दलों के नेताआें, घरेलू और अंतर. पर्यवेक्षक प्रतिनिधि मंडल के प्रतिनिधियों तथा अन्य लोगों से मिलने की है। पर्यवेक्षकों की टीम मतदान के दिन मतदान कार्यो, मतगणना की प्रक्रिया और विभिन्न चुनौतियों से निपटने के लिए किए जाने वाले प्रयासों पर नजर रखेगी। नेपाल में नए संविधान के निर्माण एवं राजशाही का भविष्य तय करने के लिए 10 अप्रैल को पहली बार संविधान सभा का चुनाव कराया जा रहा है।ड्ढr कार्टर सेंटर ने मतदाताआें को डराने-धमकाने, खासकर नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (माआेवादी) द्वारा विभिन्न राजनीतिक दलों के उम्मीदवारों और मतदाताआें को धमकी देने की घटनाआें पर गंभीर चिंता व्यक्त की है। कार्टर सेंटर के लोकतंत्र कार्यक्रम के सहायक निदेशक डेविड पोत्ताई ने बयान में कहा, नेपाली कांग्रेस, सीपीएन-यूएमएल और सीपीएन (माआेवादी) के शीर्ष नेतृत्व ने शांतिपूर्ण चुनावी प्रक्रिया के प्रति अपनी वचनबद्धता प्रकट की है जिससे मैं बहुत ही प्रोत्साहित हूं। उन्होंने कहा, अब इन वादों को कार्यरूप देने का समय आ गया है। ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कार्टर दंपति नेपाल में चुनाव पर रखेंगे नजर