DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एमडीएस कोर्स :कोई छात्र क्वालिफाई नहीं कर पाया

पीजी मैट परीक्षा में इस वर्ष डेंटल का कोई भी छात्र क्वालिफाई माक्र्स नहीं ला सका। बीसीईसी द्वारा इसके चलते एमडीएस कोर्स में नामांकन के लिए रिजल्ट ही प्रकाशित नहीं किया गया। अब इसके लिए नियमों की तलाश की जा रही है। पीजी मैट के तहत आयोजित परीक्षा में उत्तीर्ण छात्रों की काउंसलिंग शुक्रवार से आरम्भ होगी।ड्ढr ड्ढr इधर एमडीएस कोर्स में दाखिला वर्ष 1से बन्द था। पीजी मैट के तहत आयोजित परीक्षा में पास एलोपैथ और आयुर्वेद के पीजी छात्रों की काउंसलिंग शुक्रवार से आरम्भ होने जा रही है। इधर डेंटल के छात्रों के क्वालीफाई नहीं करने के कारण ऊहापोह की स्थिति बनी हुई है। बीसीईसी के विशेष कार्य पदाधिकारी अनिल कुमार सिन्हा ने कहा कि एमडीएस कोर्स में नामांकन के लिए सामान्य श्रेणी के छात्रों को परीक्षा में 50 फीसदी माक्र्स लाना आवश्यक है जबकि आरक्षित श्रेणी के अतिपिछड़ा, पिछड़ा, अनुसूचित जातिजनजाति और आरक्षित महिला उम्मीदवारों को पास करने के लिए 40 प्रतिशत माक्र्स लाना आवश्यक है।ड्ढr ड्ढr परीक्षा के दौरान सामान्य और आरक्षित श्रेणी के किसी छात्र ने क्वालिफाई माक्र्स प्राप्त नहीं किया। उन्होंने कहा कि पटना डेंटल कॉलेज के प्राचार्य को पत्र लिखकर सुझाव मांगा गया है कि इस प्रकार का कोई अधिनियम हो जिसमें उपयुक्त माक्र्स न लानेवाले छात्रों का नामांकन लिया जा सके तो उसका सुझाव दें। इधर जानकारों का कहना है कि एमडीएस रेग्यूलेशन में न्यूनतम माक्र्स का कहीं भी जिक्र नहीं है। ऐसे में एमडीएस के छात्रों के नामांकन की अधिक संभावना बन गयी है। पटना डेंटल कॉलेज में प्रॉस्थेटिक विभाग में एमडीएस की चार सीटों पर नामांकन होता है। इसमें दो छात्र सीबीएसई से जबकि दो छात्र बीसीईसी के माध्यम से भेजे जाते हैं। सीबीएसई की काउंसलिंग समाप्तह हो चुकी है। वहां से कोई छात्र कॉलेज में नहीं आया। ऐसे में सभी सीटें बीसीईसी के खाते में आ गयी। बीसीईसी से हरी झंडी मिलने पर एमडीएस कोर्स में नामांकन होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एमडीएस कोर्स :कोई छात्र क्वालिफाई नहीं कर पाया