DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भेल अब परमाणु बिजली उत्पादन के क्षेत्र में भी उतरेगी

बिजली संयंत्रों का निर्माण करने वाली प्रमुख इंजीनियरिंग कंपनी भारत हैवी इलेक््रिटकल्स लि. (भेल) परमाणु बिजली घर स्थापित करने का कारोबार करने के लिए सरकारी उपक्रम परमाणु बिजली निगम के साथ संयुक्त उपक्रम का करार करने जा रही है। कंपनी बढ़ती प्रतिस्पर्धा के बीच बाजार में अपना वर्चस्व बनाए रखने की रणनीति के तहत राय बिजली बोडर्ों के साथ बिजली उत्पादन की संयुक्त परियोजनाआें में शामिल होने की बड़ी रणनीति पर काम कर रही है। भेल के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक के रवि कुमार ने बताया कि भेल तथा परमाणु बिजली निगम के बीच संयुक्त उपक्रम के करार पर कल (शुक्रवार) को दिल्ली में हस्ताक्षर किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि कपंनी पहली बार परमाणु बिजली उत्पादन के क्षेत्र में इस प्रकार की भागीदारी करने जा रही है। उन्होंने कंपनी के वित्तीय परिणाम घोषित करते हुए बताया कि भेल ने 31 मार्च को समाप्त वित्तीय वर्ष में पहली बार 20,000 करोड़ रुपये का आकड़ा पार करते हुए 21,608 करोड़ रुपये का कारोबार किया, जो गत वर्ष से 15 प्रतिशत अधिक है तथा कर पूर्व लाभ में 4,000 करोड़ रुपये का आंकड़ा पार करते हुए 4,3रोड़ रुपये कर पूर्व लाभ दर्ज किया, जो गत वर्ष के 3736 करोड़ रुपये से 18 फीसदी अधिक है। इस दौरान कंपनी ने 2815 करोड़ रुपये का शूद्ध लाभ दर्ज किया, जो गत वर्ष के 2415 करोड़ रुपये से 17 फीसदी ज्यादा है। वर्ष के दौरान कंपनी ने अपना क्षमता बढ़ाने के लिए 726 करोड़ रुपये का पूंजीगत निवेश किया, जो गत वर्ष से दोगुना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भेल अब परमाणु बिजली उत्पादन के क्षेत्र में भी उतरेगी