DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उपचुनावों में भी कड़े बन्दोबस्त

प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अनुज बिश्नोई ने कहा है कि दो लोकसभा और तीन विधानसभा क्षेत्रों में आगामी 12 अप्रैल को होने वाले उपचुनाव के लिए कमोबेश उसी तरह के कड़े बन्दोबस्त किए जाएँगे, जैसे गत वर्ष विधानसभा चुनाव के दौरान किए गए थे। उन्होंने कहा है कि स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव के लिए किसी भी तरह की ढिलाई स्वीकार नहीं की जाएगी। लापरवाही बरतने वाले अधिकारी दण्डित होंगे। श्री बिश्नोई ने इन निर्वाचन क्षेत्रों में चुनावी तैयारियों की समीक्षा का दौर शुक्रवार को गाजियाबाद जिले के मुरादनगर विधानसभा क्षेत्र की समीक्षा के साथ ही पूरा कर लिया। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने तैयारियों की समीक्षा का कार्य गत दो अप्रैल को आजमगढ़ तथा खलीलाबाद लोकसभा क्षेत्रों की समीक्षा के साथ शुरू किया था। तीन अप्रैल को उन्होंने हरदोई जिले के बिलग्राम तथा गोण्डा जिले के करनैलगंज विधानसभा क्षेत्रों की समीक्षा की थी। श्री बिश्नोई ने बताया कि समीक्षा के दौरान उन्होंने सम्बंधित सभी जिलों में राजनीतिक दलों के नेताओं से भी बात की और स्वतंत्र व निष्पक्ष चुनाव के लिए उनके सुझाव लिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: उपचुनावों में भी कड़े बन्दोबस्त