अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आज तीजन के तंबूरे पर झूमेंगे रांचीवासी

अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त लोक गायिका तीजन बाई के सुर से शनिवार को कपालिक शैली में पंडवानी गूंजेगी। तीजन के तंबूरे पर झूमेंगे रांचीवासी। पंडवानी गायन के लिए सरहद पार तक जानी जाती हैं छत्तीसगढ़ की बेटी तीजन बाई। महाभारत की कथा को अपने सुरों में पिरो कर तीजन जब मंच पर होती हैं, तो झूम उठता है सभागार। वे छत्तीसगढ़ के चर्चित लेखक सबाल सिंह चौहान के लिखे गीतों को सुर देकर नृत्य करती हैं। फ्रांस, इग्लैंड, स्विटजरलैंड, जर्मनी, टर्की, रोमानिया और मॉरीशस में आज भी लोग तीजन बाई के आलाप को नहीं भूल पाये हैं। पद्मश्री, पद्मभूषण, संगीत नाटक अकादमी सम्मान, अहिल्या देवी सम्मान, श्रेष्ठ कला आचार्य, डी-लिट् से नवाजी जा चुकीं तीजन शनिवार को रात आठ बजे रेलवे ऑफिसर्स क्लब, हटिया में शाम-ए-राग कार्यक्रम में अपना परफामेंस देंगी। इस कार्यक्रम की मुख्य अतिथि झारखंड महिला आयोग की अध्यक्ष लक्ष्मी सिंह हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आज तीजन के तंबूरे पर झूमेंगे रांचीवासी