भगवा ब्रिगेड को सत्ता नसीब नहीं होने देंगे - भगवा ब्रिगेड को सत्ता नसीब नहीं होने देंगे DA Image
6 दिसंबर, 2019|1:53|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भगवा ब्रिगेड को सत्ता नसीब नहीं होने देंगे

ोयम्बटूर पार्टी कांग्रेस ने क्या एजेंडा तय किया? देश की आम जनता की रोजी-रोटी और महंगाई बढ़ाने वाली यूपीए सरकार की आर्थिक नीतियों के खिलाफ जन संघर्ष को नई ऊंचाइयों पर ले जाना। भाजपा-कांग्रेस के खिलाफ देश में वाम लोकतांत्रिक नीतियों के साथ तीसरा विकल्प तैयार करना और भारत को अमेरिकी साम्राज्यवाद का पार्टनर बनाने ही हर कोशिश नाकाम करना। हमने संकल्प लिया है कि भाजपा को किसी भी सूरत में केन्द्र की सत्ता नसीब नहीं होने देंगे। तीसरा विकल्प बनेगा कैसे? भाजपा-कांग्रेस की दो ध्रुवीय राजनीति देश हित में नहीं। दोनों ही पार्टियाँ जन समर्थन खो रही हैं। ऐसे में राष्ट्रीय स्तर पर तीसरा विकल्प खड़ा करने के हालात बन रहे हैं। यूएनपीए दलों की आर्थिक नीतियों के पिछले रिकार्ड पर विवाद है? साझा नीतियां बनाकर आगे का रास्ता तय करने पर सहमति बन चुकी है। टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू व सपा नेतृत्व समेत कई गैर कांग्रेसी ताकतें वामदलों के दृष्टिकोण से सहमत हैं। विदेश नीति के मसले पर वे हमारे साथ आने को तैयार हैं। हिन्दी क्षेत्रों में माकपा की कमजोर स्थिति क्या सुधरेगी? हिन्दी क्षेत्र में हमारे सामने कई ऐतिहासिक व सामाजिक चुनौतियाँ हैं। गांवों व गरीबों की समस्याआें को लेकर जहां हमने संघर्ष किया, वहाँ हमारी ताकत बढ़ी है। राजस्थान में किसानों को बिजली-पानी के मुद्दों पर आंदोलन में कूदे हैं, वहां हमारा विस्तार हुआ। हिन्दी बेल्ट में हम पूर्णकालिक कार्यकत्त्राआें की संख्या बढ़ा रहे हैं। न्यूक्िलयर करार के भविष्य पर? मुझे अब इसका कोई भविष्य नहीं दिखाई देता। सरकार खुद ही कह चुकी है कि राजनैतिक आम सहमति के बाद ही आगे कदम बढ़ाएंगे। संसद में बहुमत करार के खिलाफ है। बुश प्रशासन ने समय सीमा तय की है, पर इसके लिए वक्त कहां बचा है? माकपा कांग्रेस के बैनर होर्डिगों में पार्टी नेताआें के भारी भरकम कटआउट, रंगारंग पोस्टरबाजी हुई। आपकी तस्वीरों के होर्डिग हर जगह लगे हैं? आपकी पार्टी और दूसरों में अंतर कैसे है? यह तमिलनाडु का राजनीतिक कल्चर है। हमारी पार्टी में जीवित नेताआें की तस्वीरों के होर्डिग नहीं लगते थे। केरल व पश्चिम बंगाल में ऐसा नहीं होता, पर आप इसे यहां की फिल्मों का असर कहें या लोक परंपराआें व सांस्कृतिक परंपरा। आखिर हम इस सामाजिक प्रभाव से कैसे अछूते रहते?ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भगवा ब्रिगेड को सत्ता नसीब नहीं होने देंगे