DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

त्रिशलानंद वीर की, जय बोलो महावीर की

दिगंबर जन धर्मावलंबियों ने मंगलवार को भव्य शोभायात्रा निकाल भगवान महावीर की जयंती धूमधाम से मनायी। दिगंबर जन मंदिर जेजे रोड में सुबह छह बजे कार्यक्रम की शुरुआत अभिषेक-पूजन से हुई। इसमें बड़ी संख्या में अनुयायियों ने अपने इष्ट का पूजन कर 1008 कलशों से उनका अभिषेक किया। इसके बाद रथोत्सव हुआ। श्रीजी को रथ में विराजमान की गयी। उम्मेदमल काला और गौतम कुमार काला ने भगवान की प्रतिमा को रथ में विराजमान करने का सौभाग्य प्राप्त किया। सुबह साढ़े आठ बजे रथ के साथ भव्य शोभायात्रा निकाली गयी। आगे-आगे बैंड बाजे के कलाकार भक्ित धुन बजाते आगे बढ़ रहे थे। साथ ही भजन मंडली के साथ नाचते-झूमते युवा साथ चल रहे थे। पीछे से सुसज्जित ट्रक पर भगवान की तसवीर और बच्चें आगे बढ़ रहे थे। अंत में रथ खींचते पुरुष और घकेलती महिलाएं बड़ी संख्या में चल रही थीं। यात्रा कार्टसराय रोड, गाड़ीखाना के रास्ते हरमू रोड होते हुए रातू रोड स्थित वासुपूज्य मंदिर पहुंची। यहां वासुपूज्य भगवान का अभिषेक-पूजन किया गया। रास्ते में जगह-ागह यात्रा में शामिल लोगों का स्वागत पेयजल और शर्बत से की गयी। मंदिर में श्रीजी को फिर से विराजमान किया गया। शाम में आरती और सांस्कृतिक कार्यक्रम का सिलसिला देर शाम तक चला।ड्ढr दूसरी ओर श्वेतांबर जन मंदिर डोरंडा में सुबह भगवान जन्म पूजन के बाद शोभायात्रा निकाली गयी। इसमें शामिल धर्मावलंबी क्षेत्र का भ्रमण कर मंदिर पहुंचे। इस बीच डोरंडा का इलाका त्रिशलानंद वीर की जय बोलो महावीर की, जब तक सूरा-चांद रहेगा महावीर तेरा नाम रहेगा.., भगवान महावीर की जय.. जसे जयघोष से गुंजायमान रहा। शाम में सांस्कृतिक कार्यक्रम और भजन संध्या का आयोजन किया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: त्रिशलानंद वीर की, जय बोलो महावीर की