DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिक्षकों के रिक्त पद जुलाई तक भरेंगे

शिक्षा मंत्री बंधु तिर्की ने कहा कि राज्य में शिक्षा की स्थिति संतोषजनक नहीं है। इस विभाग के कप्तान होने के नाते वह परिवर्तन की जरूरत महसूस कर रहे हैं। जुलाई तक राज्य में शिक्षकों के सभी रिक्त पद भर दिये जायेंगे। इसके लिए जेपीएससी को पत्र भेज दिया गया है। हर प्रखंड में डीइओ का ब्लॉक आफिस खुलेगा। इसमें स्टाफ और तमाम सुविधाएं होंगी। डीइओ अब ब्लॉक ऑफिस जाकर गांवों में शिक्षा की गतिविधियों की मॉनिटरिंग करेंगे। तिर्की ने उक्त बातें छह अप्रैल को राज्य अवर शिक्षा संघ के वार्षिक अधिवेशन में बतौर मुख्य अतिथि कहीं।ड्ढr उन्होंने कहा कि शिक्षा की गाड़ी पटरी पर तो है, लेकिन दौड़ नहीं रही है। शिक्षा अधिकारी स्कूलों की व्यवस्था सुधारें। सभी डीइओ को अब रिचार्ज कूपन के साथ मोबाइल मिलेगा। 28 अप्रैल से शुरू हो रहे स्कूल चलें हम कार्यक्रम में मिल कर काम करना है। बेहतर प्रदर्शन करनेवाले ग्राम, प्रखंड और जिला शिक्षा पदाधिकारियों को सम्मानित किया जायेगा। सरकारी स्कूलों में भी मांटेसरी की तर्ज पर अंग्रेजी बोलचाल की पढ़ाई होगी। इसके लिए अनुबंध पर शिक्षकों की नियुक्ित होगी। विशिष्ट अतिथि प्राथमिक शिक्षा उपनिदेशक सीके सिंह ने कहा कि डीइओ शिक्षा के स्तंभ हैं। बुनियादी स्कूलों का स्वरूप बदलेगा। इसके लिए सभी को 40-40 लाख रुपये दिये गये हैं। कार्यक्रम में रांची के डीइओ अशोक शर्मा, महासचिव रामप्रसाद महतो एवं जयप्रकाश नारायण शर्मा ने भी विचार रखे। इससे पूर्व अतिथियों का स्वागत डॉ शेख आसिम ने किया। इस अवसर पर उपेंद्रनाथ ठाकुर, राजेंद्र ठाकुर, इंद्रभूषण कुमार हमीमुद्दीन अंसारी, पीपी सिन्हा, कमलकिशोर राजा, ए महतो, रामाशीष पंडित, शशि सिन्हा, अरविंद सिंह आदि उपस्थित थे।ड्ढr संघ ने 16 सूत्री ज्ञापन सौंपाड्ढr रांची। राज्य अवर शिक्षा सेवा संघ ने छह फरवरी वार्षिक अधिवेशन के दौरान शिक्षा मंत्री को अपनी मांगों एवं शिक्षा को बेहतर बनाने के सुझावों से संबंधित 16 सूत्री ज्ञापन सौंपा। महासचिव रामप्रसाद महतो द्वारा सौंपे गये ज्ञापन के माध्यम से गुणवत्ता युक्त शिक्षा देने के लिए नीति बनाने, स्कूलों में बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराने और शिक्षकों की नियुक्ित करने, शिक्षाकर्मियों की समस्याओं का समाधान, शिक्षा सेवा के पदों का मर्जर करने, 8000-12000 के वेतनमान में एसीपी का लाभ देने, प्रखंड शिक्षा प्रसार अधिकारी को भी वाहन-घर की सुविधा देने, व्याख्याता और प्रधानाध्यापकों का पदस्थापन उनकी सहमति से हो, राज्य के 714 पदों को चिह्न्ति कर नयी स्थानांतरण, नियुक्ित और प्रोन्नति नियमावली बनायी जाये, 20 साल से लंबित प्रोन्नति दी जाये, मध्याह्न् भोजन के लिए गोदाम की व्यवस्थाो, जिला शिक्षा भवन में संघ के लिए 2000 वर्ग फीट जगह एवं बच्चों के नामांकन से पूर्व पंजीयन ताकि उनका डाटा बेस तैयार हो सके आदि शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शिक्षकों के रिक्त पद जुलाई तक भरेंगे