अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वकीलों के पक्ष में सड़क पर उतरे वामपंथी

ोर्ट फीस बढ़ाए जाने के खिलाफ वकीलों के चल रहे आंदोलन का समर्थन करते हुए वामपंथी भी सोमवार को सड़क पर उनके पक्ष में उतर गए। एक साथ वकीलों व वामपंर्थियों ने शहर में प्रदर्शन किया और राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। जिला विधिज्ञ संघ के अध्यक्ष राजेन्द्र मिश्र के नेतृत्व में सैकड़ों वकीलोंने सरकार के अड़ियल रवैये के खिलाफ यह जुलूस निकाला था। वकीलों ने कहा कि फैसला होने तक संघर्ष जारी रहेगा। कोर्ट फीस वृ िवापस लो, नीतीश मोदी मुर्दाबाद के नारों से पूरा शहर गुंज उठा। उधर भारतीय कम्यूनिष्ट पार्टी की जिला इकाई के नेताआें ने गोपालगंज शहर में बैनर पोस्टर के साथ प्रदर्शन किया। उनकी मांगे थी कि बढ़ती कोर्ट फीस को वापस लिया जाए, महंगाई पर नियंत्रण किया जाए तथा छात्रों के बढ़ते फीस पर भी नियंत्रण रखा जाए। प्रदर्शन कर नेतृत्व भाकपा के जिला सचिव कृष्ण बिहारी यादव, राघव मिश्र, बलिराम प्रसाद, गणेश प्रसाद सिंह, नूरुल हसन, हीरा लाल सिंह आदि नेताआें ने किया। बाद में राज्य पाल को संबोधित एक ज्ञापन भी जिला पदाधिकारी को सौंपा गया।ड्ढr ड्ढr .. और शहर की धड़कन हो गई धीमीड्ढr गोपालगंज (सं.सू.)। और शहर की धड़कन धीमी हो गई। लोगों का कहना है कि एकमात्र कचहरी की चहल पहल से शहर की आर्थिक गतिविधियां जुड़ी हुई है। इस बात को जिला मुख्यालय के व्यवसायी भी पीढ़ी दर पीढ़ी से स्वीकार करते हैं। कोर्ट फी वृ िको लेकर सोमवार से जारी वकीलों की बेमियादी हड़ताल से सभी वगरे के व्यवसाय पर गहरा असर दिखाई पड़ने लगा है। हजारों की संख्या में ग्रामीण क्षेत्रों से अब लोगों का शहर में आना कम हो गया है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: वकीलों के पक्ष में सड़क पर उतरे वामपंथी