DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गम में बदलीं निकाह की खुशियां

जहां एक ओर बेटे की निकाह के लिए शहनाई बज रही थी और घर वाले दुल्हन के स्वागत की तैयारी में जुटे थे वहीं दूसरी ओर विधाता को कुछ और ही मंजूर था। सोमवार को दुल्हन के पहले ही एक साथ दादा तथा पोती के शव पहुंचे तो मकेर प्रखंड की कैतुका नंदन पंचायत के सुल्तान गंज गांव में सन्नाटा पसर गया।ड्ढr ड्ढr मालूम हो कि इसी गांव के मो. शफीक मियां के बेटे साहेब आलम की बारात रविवार की देर शाम मुजफ्फरपुर जिले के बेला धिरुपति के मो. हसनैन के घर जा रही थी कि रास्ते में मुजफ्फरपुर जिले के करजा पेट्रोल पंप के समीप बारात की सूमो गाड़ी सड़क पर खड़ी ट्रैक्टर से टकरा गई जिससे सूमो पर सवार दूल्हे के पिता मो. शफीक मियां और उनकी पांच वर्षीया पोती जूली खातून की मृत्यु घटनास्थल पर ही हो गई। वहीं उनकी एक अन्य पोती दस वर्षीया चांदनी खातून बुरी तरह घायल होकर पीएमसीएच में जीवन और मौत से अभी भी जूझ रही है। इनके अलावा रुस्तम मियां, राबिया खातून और मुन्ना मियां भी घायल हो गए हैं, जिनका उपचार मुजफ्फरपुर में चल रहा है। दूल्हे के बड़े भाई मो. हैदर अली ने बताया कि गाड़ी चलाने के वक्त ड्राइवर शायद नशे में था, जिस कारण यह दुर्घटना हुई। हालांकि चालक की प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी है। वहीं गम के माहौल के बीच ही निकाह की रस्म किसी तरह अदा हुई और गमगीन माहौल में ही सोमवार को दुल्हन रौशन खातून यहां पहुंची।ड्ढr ड्ढr शादी का कार्ड देने जा रहे युवक को ट्रक ने कुचलाड्ढr एकमा (सारण) (नि.सं.)। छपरा-सीवान मुख्य मार्ग पर एकमा गंडक कार्यालय के समीप सोमवार को बालू लदे ट्रक से कुचलकर 20 वर्षीय युवक सनदी प्रसाद की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। एकमा पुलिस ने शव को बरामद कर उसे पोस्टमार्टम हेतु छपरा भेज दिया। मिली जानकारी के अनुसार कोपा थाने के रेवाड़ी गांव के युवक संदीप प्रसाद सगे-संबंधियों को शादी का कार्ड देने हेतु साइकिल से एकमा आ रहा था तभी यह दुर्घटना हुई। वहीं इस दुर्घटना के बाद सीवान जिले के रघुनाथपुर थानान्तर्गत डुमरी गांव के चालक योगेन्द्र यादव ने ट्रक समेत अपने आपको एकमा थाना पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गम में बदलीं निकाह की खुशियां