DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंकों का काम प्रभावित रहा

बैंकों के कर्मचारी और पदाधिकारी को चुनाव डय़ूटी में लगाए जाने के कारण राजधानी के बैंकों का कामकाज प्रभावित हुआ है। लोकसभा चुनाव के लिए कर्मचारियों को प्रशिक्षण का काम दो अप्रैल से शुरू हुआ है। राजधानी के अधिसंख्य बैंकों के नोटिस बोर्ड पर यह सूचना टंगी है। ‘आम सूचना- लोकसभा चुनाव 200में स्टॉफ की प्रतिनियुक्ित के कारण बैंकिंग कार्य बाधित रहेगा।’ बैंकों में कामकाज बाधित होने के कारण ड्राफ्ट बनवाना, चेक और कैश जमा करने में आम लोगों को भारी कठिनाई हो रही है। लोग परेशान हाल घूम रहे थे।ड्ढr ड्ढr भारतीय स्टेट बैंक की न्यू मार्केट शाखा में ड्राफ्ट बनवाने आए सुनील कुमार ने बताया कि बिना पूर्व सूचना के बैंक बंद होने के कारण काफी परेशानी हो रही है। इसके अलावा राजधानी के अधिसंख्य ब्रांचों में कामकाज प्रभावित था। सभी जगह कर्मचारियों की कमी का रोना था। स्टेट बैंक की न्यू माकर्ेेट शाखा समेत कई ब्रांच पूरी तरह बंद थे। जबकि केनरा बैंक की कई शाखाओं में आधे दिन काम हुआ। ऐसी ही हालत सभी बैंकों की है। पंजाब नेशनल बैंक, इलाहाबाद बैंक और सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया समेत सभी बैंकों की कमोबेश यही स्थिति है। नाम नहीं छापने की शर्त पर सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के एक वरीय अधिकारी ने बताया कि अगले महीने स्थिति और विकट हो जाएगी। जिले में सात मई को मतदान होना है।ड्ढr ड्ढr इसलिए चार-पांच मई से ही सारा कामकाज बाधित हो जाएगा। दूसरी ओर एसबीआई कर्मचारी संघ के वरीय नेता जे एन सिंह ने बताया कि एक बार कर्मचारियों के ब्रांच से निकल जाने के बाद कामकाज पूरी तरह बाधित हो जाता है। साथ ही चार या पांच कर्मचारियों व अधिकारियों के सहार ब्रांच चलाना मुश्किल है। इस संबंध में पूछने पर जिलाधिकारी जितेन्द्र कुमार सिन्हा ने बताया कि बैंक कर्मचारियों को चुनाव डय़ूटी में लगाने से पहले यह ध्यान रखा गया है कि वहां का कामकाज नहीं प्रभावित हो। उन्होंने बताया कि बैंककर्मियों को माइक्रो आब्जर्वर के रूप में लगाया गया है। जिनकी ट्रेनिंग सिर्फ दो घंटे होती है। साथ ही महत्वपूर्ण पदों पर काम कर रहे पदाधिकारियों और कर्मचारियों को डय़ूटी में नहीं लगाया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बैंकों का काम प्रभावित रहां