DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूंजी कचचा विश्वव्यापी संकचचट बढ़ सकचचता है : आईएमएफचच

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने कहा कि पूंजी बाजार का संकट व्यापक रूप से फैल सकता है, जिससे बैंकों को और घाटा सहना होगा। आईएमएफ ने वैश्विक वित्तीय बाजार के अपने आकलन में कहा है कि पूंजी बाजार का संकट बढ़ने से विश्व स्तरीय विकास दर की रफ्तार प्रभावित होगी। आकलन में कहा गया है कि वित्ताीय बाजार पर दबाव बना रहेगा। यह दबाव अर्थव्यवस्थाओं का आकार बड़ा होने, उनके आधार फैलने और वित्तीय संस्थानों के कमजोर पड़ने से यह दबाव और बढ़ेगा। एक अनुमान के अनुसार मार्च 2008 तक बैंकों को अरब डॉलर का नुकसान हो चुका है। आईएमएफ का कहना है विश्व स्तर पर वित्तीय स्थिरता के लिए संकट बढ़ा है। संगठन के अनुमान के अनुसार यूरोप के आवास में गिरावट इसका सबूत है कि यूरोप में भी आर्थिक विकास मंदी की ओर है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पूंजी कचचा विश्वव्यापी संकचचट बढ़ सकचचता है