DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अनपरा सी की क्षमता को लेकर आयोग से शिकायत

निजी क्षेत्र में लग रही अनपरा सी बिजली परियोजना को लेकर विवाद अभी भी थम नहीं रहे। निजी कंपनी लैन्को ने काम शुरू कर दिया है लेकिन अब फिर एक बार बिजलीघर की क्षमता बढ़ाने के प्रयासों पर सवाल खड़े हो गए हैं।ड्ढr ताजा वाकया यह है कि अरविन्द सिंह नाम के उपभोक्ता ने राज्य विद्युत नियामक आयोग से लिखित शिकायत की है कि लैन्को 1200 मेगावाट का बिजलीघर लगा रही है जबकि करार 1000 मेगावाट का हुआ है और इसी के आधार पर बिजली की दर भी तय हुई है। उन्होंने आयोग से माँग की है कि या तो करार रद्द किया जाए या बिजली की तय दर में बीस फीसदी की कमी लाई जाए।ड्ढr शिकायती पत्र में कहा गया है कि-लैन्को राज्य सरकार व आम जनता के साथ फरब कर रही है। टेण्डर की शर्तो व सहमति पत्र के मुताबिक वह परियोजना की क्षमता 1000 मेगावाट से नहीं बढ़ा सकती। पावर कार्पोरशन ने क्षमता बढ़ाने की जो याचिका आयोग में डाली थी उसे भी कार्पोरशन वापस ले चुका है। एसे में निजी कंपनी किस आधार पर अभी भी 1200 मेगावाट की परियोजना लगाने में जुटी है?ड्ढr इस नई शिकायत के बार में पूछे जाने पर आयोग के अध्यक्ष विजय कुमार ने कहा कि शिकायती पत्र मिला हैड्ढr लेकिन यह याचिका के रूप में नहीं है। उन्होंने कहा कि आयोग ने 1000 मेगावाट के हिसाब से बिजली की दर तय की थी। एसे में 1200 मेगावाट की परियोजना लगाने की कवायद करने से पहले लैन्को को आयोग के समक्षड्ढr आना होगा।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अनपरा सी की क्षमता को लेकर आयोग से शिकायत