अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपीए के अंदर मचा घमासन

झारखंड में यूपीए के अंदर घमासान मचा हुआ है। राज्यसभा चुनाव में यूपीए एकता पहले ही तार-तार हो चुकी है। रही कसर इस बार केंद्रीय कैबिनेट के विस्तार ने पूरी कर दी।ड्ढr कांग्रेस ने झामुमो को इससे दरकिनार क्या किया, उसके नेता आपे से बाहर हैं। गुस्साये झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरन ने केंद्र के साथ-साथ रल मंत्री लालू प्रसाद को भी लपेट लिया। लालू के खिलाफ शिबू के बयान से राजद के नेता बिफर गये। मंत्री बंधु तिर्की कांग्रेस के बयान से पहले से उखड़े हुए थे। उन्हें मौका मिला और उन्होंने केंद्रीय मंत्री सुबोध कांत को आड़े हाथों ले लिया। कोड़ा सरकार पर कांग्रेस की पहले से ही भृकुटि तनी हुई है। माकन ने सरकार के खिलाफ तीर छोड़कर फिर उबाल पैदा कर दिया है। यह मामला अभी नरम भी नहीं पड़ा कि इस बीच शिबू को केंद्र में मंत्री नहीं बनाये जाने का मामला गरमा गया। डिप्टी सीएम सुधीर महतो कहते हैं कि कांग्रेस ने गंठबंधन धर्म का उल्लंघन किया है। झामुमो विधायक दल के नेता चंपई सोरन का कहना है कि गुरुाी को मंत्री न बना कर कांग्रेस ने धोखा दिया है। दल के उपाध्यक्ष हाजी हुसैन अंसारी कहते हैं कि झामुमो अगर यूपीए में है, तो कांग्रेस को भी गंठबंधन धर्म का पालन करना होगा। सूबे के राजद नेताओं को लालू के खिलाफ शिबू का बयान अच्छा नहीं लगा और उन्होंने गुरुाी पर पलटवार कर दिया। बुधवार को रजरप्पा पूजा करने पहुंचे राजद के राष्ट्रीय महासचिव सह प्रवक्ता श्याम राक ने कहा कि लालू प्रसाद और शिबू सोरन के कद में आसमान- जमीन का फर्क है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष गौतम सागर राणा, विधायक गिरिनाथ सिंह और अन्नपूर्णा देवी ने गुरुाी को इस तरह के बयान न देने की नसीहत तक दे डाली। सरकार के मंत्री बंधु तिर्की भी कांग्रेस नेताओं का बयान से भड़के हुए हैं। सरहुल में कांग्रेसी नेता और केंद्रीय मंत्री सुबोध कांत सहाय से वह भिड़ गये। उन्होंने बिना लाग-लपेट के कांग्रेसी नेता से यह कहने में गुरज नहीं किया - हमें स्थिर से काम करने दें सुबोध जी। फिर सुबोध कांत कहां पीछे रहनेवाले थे, उन्होंने भी लगे हाथ बंधु तिर्की को नसीहत दे डाली- नि:संदेह बंधु तिर्की अच्छा काम कर रहे हैं। पर यह बात सभी पर लागू नहीं होती। सरकार की हालत से सभी वाकिफ हैं। राजनीति में वैचारिक मतभेद तो चलता रहता है। परंतु व्यक्ितगत मतभेद नहीं होना चाहिये। कांग्रेस की लाइन पर आयें गुरुाी : माकन कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अजय माकन ने कहा कि झारखंड की हालत ठीक नहीं है। झामुमो सुप्रीमो सहित अन्य घटको को इस पर विशेष ध्यान देना चाहिए। उन्होंने कहा कि झारखंड की स्थिति सुधारने के लिए कांग्रेस ने एक स्टैंड लिया है। गुरुाी सहित अन्य नेता इसका समर्थन करं, ताकि विफल सरकार से मुक्ित दिलायी जा सके। प्रदेश में विकास हो और भ्रष्टाचार मुक्त शासन व्यवस्था यह सभी का प्रयास होना चाहिए। गुरुाी को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किये जाने की बावत पूछे जाने पर माकन ने कहा कि झारखंड से आदिवासी लीडर डॉ रामेश्वर उरांव को मंत्री बनाया गया है। उन्हें जनजातीय मामलों का प्रभार दिया गया है। वे स्वच्छ छवि वाले अच्छे प्रशासनिक अधिकारी रहे हैं। 1में जब जमशेदपुर में दंगे हो रहे थे, तब डॉ उरांव खानापीना छोड़कर शांति व्यवस्था बनाने में जुटे थे। केंद्रीय नेतृत्व ने धर्मनिरपेक्ष छवि वाले व्यक्ित को मंत्री बनाकर झारखंड के विकास का मार्ग प्रशस्त किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: यूपीए के अंदर मचा घमासन