DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब आसानी से मिलेगा वाटर कनेक्शन

अब वाटर कनेक्शन के लिए उपभोक्ताओं को इंतजार नहीं करना पड़ेगा। वाटर कनेक्शन से संबंधित फाइल पीएचइडी को नहीं भेजी जायेगी। नक्शा की स्वीकृति प्राप्त करने के लिए रांची नगर निगम वाटर बोर्ड आवेदकों को आवेदन को पीएचइडी के पास भेजता था। लेकिन अब बोर्ड नक्शा की स्वीकृति खुद देगा। पीएचइडी के साथ बोर्ड की बुधवार को हुई बैठक में यह फैसला लिया गया। इसकी अध्यक्षता बोर्ड के चेयरमैन सुरश साहू ने की। बैठक में पाइप लाइन लीकेा पर भी चर्चा की गयी। पाइप लाइन लीकेा की जांच के लिए एक टीम का गठन किया जायेगा। टीम में बोर्ड और पीएचइडी के लोग शामिल रहेंगे। तय यह भी हुआ कि प्रत्येक बुधवार को पीएचइडी और बोर्ड की संयुक्त बैठक होगी। जिसमें सप्ताहभर में किये गये कार्यो की समीक्षा की जायेगी। चेयरमैन पाइप लाइन विस्तारीकरण की जानकारी ली। उन्हें बताया गया कि योजनाओं पर काम चल रहा है। बैठक में पीएचइडी के अभियंता समेत बोर्ड के सहायक अभियंता राजेश रांन, अभियंता सीएन झा, पार्षद संजीव विजयवर्गीय, साजदा खातून, अरविंदर सिंह देवल, सुबोध प्रसाद आदि लोग शामिल थे।ड्ढr सलाहकार से मिलाड्ढr रांची नगर निगम वाटर बोर्ड का प्रतिनिधिमंडल बुधवार को सलाहकार जी कृष्णन से मिलकर ज्ञापन सौंपा। कहा कि कार्यालय में 34 पद रिक्त हैं। इनमें से 4 अभियंता और 26 कार्यालय कर्मचारी शामिल हैं। तत्कालीन मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी ने इस संबंध में नगर विकास विभाग के सचिव से रिक्त पदों को भरने का अनुरोध भी किया था। लेकिन अब तक कार्रवाई नहीं हुई। ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अब आसानी से मिलेगा वाटर कनेक्शन