DA Image
25 जनवरी, 2020|10:48|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इसी सत्र से चालू होगी हाजीपुर स्थित रसवंती फैक्ट्री

रसवंती! शायद इस पेय पदार्थ का टेस्ट भी आप भूल गए होंगे। लेकिन अब निराश होने की जरूरत नहीं। जल्द ही ‘रसवंती’ बाजार में आने वाला है। यह अलग बात है कि यह बाजार में अपने पुराने नाम से नहीं जाना जाएगा। इसपर निजी क्षेत्र में चलने वाली बड़ी कंपनियों की मुहर होगी। लेकिन ज्योंही आप इसे हलक में उतारंगे आपकी पुरानी याद ताजा हो जाएगी। बड़ी कंपनियों के ब्रांड नाम से बाजार में आने वाले इस पेय में आपके इलाके के ही आम और लीची की खुशबू होगी।ड्ढr ड्ढr इस पेय का मजा इसी वर्ष आप ले सकें इसके लिए सरकार पूरा प्रयास कर रही है। राज्य सरकार ने वर्षों से बंद पड़ी हाजीपुर स्थित रसवंती फैक्ट्री को इसी सत्र से चालू करने का निर्णय लिया है। लेकिन अभी इस फैक्ट्री में पेय पदार्थ का निर्माण नहीं होगा। सरकार इस वर्ष वहां आम, लीची और मिर्च का पेस्ट बनाकर रिलायंस या फिर किसी अन्य इच्छुक ब्रांडेड कंपनी को थोक में बेचेगी। बाद में उक्त कंपनी फलों के पेस्ट से पेय पदार्थ बनाकर अपनी कंपनी के ब्रांड नाम से मार्केट में लाएगी। इसके अलावा मिर्च के पेस्ट से चीली सॉस का निर्माण होगा।ड्ढr ड्ढr विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अगले तीन माह में फैक्ट्री में काम शुरू हो जाएगा। आईएलएफएस ने इसके जीर्णोद्धार की पूरी रिपोर्ट विभाग को सौंप दी है। मंत्रिपरिषद से स्वीकृति मिलते ही इसपर काम शुरू हो जाएगा। सूत्र बताते हैं कि इस पर सरकार के बीस करोड़ रुपये खर्च होंगे। पेय बनाने में परशानी यह है कि उक्त कंपनी में मात्र आठ लोग ही कार्यरत हैं। इसके अलावा इसकी दोबारा ब्रांडिंग में भी समय लगेगा। इसलिए सरकार ने शर्ट कट फामरूला तैयार किया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: इसी सत्र से चालू होगी हाजीपुर स्थित रसवंती फैक्ट्री