DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बक्सर में जाली नोट छापने का भंडाफोड़

बक्सर पुलिस ने मुफस्सिल थाना क्षेत्र के जासो गांव में नकली नोट छापने के कारखाने का भंडाफोड़ करते हुए एक महिला समेत कारखाना संचालक जम्मू निवासी रॉनी दुबे को गिरफ्तार करने में सफलता पाई है। इस दौरान 16 हजार के जाली नोट व हजारों के अर्धनिर्मित जाली नोट भी मिले हैं।ड्ढr ड्ढr एसपी डा. अमित कुमार जैन के नेतृत्व में हुई छापेमारी के दौरान उक्त सफलता पुलिस को हाथ लगी। एसपी डा. अमित कुमार जैन ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर रौनी दुबे को मोटरसाइकिल पर जाते हुए बक्सर के सारिमपुर गोलंबर के पास पकड़ा गया। उसके पास से 500 के बाइस व 50 के अठारह जाली नोट बरामद किये गए, वहीं उसकी निशानदेही पर नया भोजपुर में भी छापेमारी की गई। वहां से वैद्यनाथ साह की पत्नी को पुलिस ने 50 के 72 जाली नोट के साथ पकड़ा। पुलिस की इस कार्रवाई में एसपी के साथ मुख्यालय डीएसपी एमएस वकील अहमद, टाऊन इंस्पेक्टर आरके गुप्ता व औद्योगिक थाना प्रभारी पीरनजीत सिंह साथ थे। रॉनी दुबे की निशानदेही पर जासो गांव में राजेद्र साह के मकान में स्थापित उक्त कारखाने के अंदर से नोट छापने की स्कैनर मशीन, जर्मनी निर्मित कागज, स्याही व नोट में प्रयुक्त होने वाले तार व अन्य सामग्री बरामद की गई। फैक्ट्री डा. रवीन्द्र राय के मकान में लगी थी। रॉनी दुबे ने बताया कि वह एक अज्ञात व्यक्ित के कहने पर वैद्यनाथ साह के संपर्क में आया और इस धंधे में लगा। इस धंधे के तार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जुड़े होने की संभावना से एसपी डा. जैन ने इनकार नहीं किया। वहीं दूसरी ओर पड़ोसी मुल्क से भी तार जुड़े होने की भी चर्चा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बक्सर में जाली नोट छापने का भंडाफोड़