राज्य में दुष्कर्म की घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि - राज्य में दुष्कर्म की घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि DA Image
6 दिसंबर, 2019|2:01|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राज्य में दुष्कर्म की घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि

अपराध और अपराधियों के लिए चर्चित बिहार में हत्या और अपहरण जसे मामलों पर तो अंकुश लगा पर राज्य में महिलाओं के साथ दुष्कर्म की घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि दर्ज की गई है। वर्ष 2002 से चालू वर्ष के फरवरी माह तक के आंकड़े बताते हैं कि महिलाओं की अस्मत लूटे जाने के मामले में बिहार अन्य राज्यों से पीछे नहीं है।ड्ढr ड्ढr हालांकि राज्य के आला पुलिस अधिकारियों का जवाब है कि पहले इससे ज्यादा ऐसी घटनाएं होती थीं पर लोक लाज के कारण पीड़िता एफआईआर दर्ज नहीं कराती थीं। अब उन्हें न्याय और पुलिस पर भरोसा हुआ और ऐसी घटनाओं के मामले दर्ज कराए जा रहे हैं। इसलिए ऐसा प्रतीत हो रहा है कि दुष्कर्म की घटनाएं ज्यादा घटित हुईं।ड्ढr सूबे में जनवरी और फरवरी माह में ही सिर्फ दुष्कर्म के 136 मामले दर्ज किए गए हैं। वर्ष 2002 से वर्ष 2007 तक बलात्कार मामले में वर्षवार वृद्धि ही होती गई है। 2002 में सूबे में जहां बलात्कार के 875 मामले दर्ज किए गए वहीं 2003 में 804, 2004 में 1063, 2005 में 006 में 1083 एवं 2007 में 1122 मामले दर्ज हुए। इस दौरान पुलिस ने हत्या और फिरौती के लिए हो रहे अपहरण और हत्या की घटनाओं पर काफी हद तक अंकुश लगाया। वर्ष 2002 राज्य भर में कुल 3634 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी थी वहीं 2003 में 3652, 2004 में 3861, 2005 में 3423, 2006 में 3225 एवं 2007 में 2तथा चालू वर्ष के जनवरी फरवरी माह में 3लोगों की जानें गइर्ं। इसी तरह वर्ष 2002 में फिरौती के लिए 3003 में 411, 2005, में 351, 2006, में 1007 में 8में 2008 के पहले दो माह में मात्र 6 लोगों का अपहरण फिरौती के लिए किया गया। दुष्कर्म के अलावा राज्य में चोरी, जालसाजी व धोखाधड़ी की घटनाएं भी बढ़ी हैं। इस संदर्भ में राज्य के डीाीपी शिवचंद्र झा कहते हैं कि पीड़ित महिलाओं में आयी जागरूकता और तेजी से दर्ज हो रही प्राथमिकी के कारण बलात्कार की घटनाएं बढ़ती दिखाई दे रही हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे मामलों में जांच का दायरा बढ़ाया जाएगा और जल्द ही इस पर अंकुश पा लिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राज्य में दुष्कर्म की घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि