अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महंगाई ने तीन साल का रिकॉर्ड तोड़ा

महंगाई को रोकने के लिए सरकार द्वारा उठाए जा रहे कदम बेअसर होते नजर आ रहे हैं। लोहा, स्टील तथा फल-सब्जियों, गेहूं, चीनी और मसाला जैसी आवश्यक वस्तुओं के दामों में बढ़ोतरी से महंगाई की दर 2मार्च को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान 0.41 प्रतिशत बढ़कर पिछले करीब साढ़े तीन वर्ष के उच्चतम स्तर 7.41 प्रतिशत पर पहुंच गई। बाजार विशलेषक महंगाई की दर को उम्मीदों से बहुत अधिक मान रहे हैं। महंगाई की दर का यह स्तर आठ नवम्बर 2004 के बाद का सर्वाधिक है। बाईस मार्च को समाप्त हुए सप्ताह में मुद्रास्फीति तीन वर्ष के बाद सात प्रतिशत से ऊपर निकली थी और लगातार दूसरे सप्ताह इससे ऊपर बनी रही। उन्नतीस मार्च को समाप्त हुए सप्ताह में महंगाई की दर को बढ़ाने में सर्वाधिक हाथ लोहा, स्टील के दामों में 5.6 प्रतिशत बढ़ोतरी का रहा। इस दौरान सब्जियों के दामों में 4.1 प्रतिशत, फल 1.35 प्रतिशत, चीनी दो प्रतिशत, मसूर-उड़द तीन-तीन प्रतिशत, मसाला दो प्रतिशत और गेहूं की कीमतों में एक प्रतिशत की बढोतरी भी हुई। हालांकि सरकार द्वारा खाद्य तेलों की कीमतों को काबू में करने के लिए सोयाबीन और पाम तेल आयात को शुल्क मुक्त किए जाने का कुछ असर दिखा और आयातित खाद्य तेल के दाम पांच प्रतिशत नीचे आए। सरकार की तरफ से शुक्रवार को जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले साल आलोच्य अवधि में महंगाई की दर 5.प्रतिशत थी।ड्ढr प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी स्वीकार किया है कि कृषि वस्तुआें की कीमतों में तेजी को रोकने में खासी मशक्कत करनी पड़ रही है और इस कारण महंगाई को काबू में रखना मुश्किल हो रहा है, जिससे आर्थिक सुधार प्रक्रिया और आर्थिक विकास की गति भी प्रभावित हुई है। आलोच्य अवधि के दौरान सकल उपभोक्ता वस्तुओं का आधिकारिक थोक मूल्य सूचकांक आधा प्रतिशत बढ़कर 224.8 अंक से 226 अंक पर पहुंच गया। इसकी गणना में शामिल सर्वाधिक 63.75 प्रतिशत का भारांक रखने वाला निर्मित उत्पादों के वर्ग का सूचकांक 0.प्रतिशत के उछाल से 1अंक से 1अंक पर पहुंच गया। प्राथमिक वस्तुओं का सूचकांक 22.02 प्रतिशत भारांक 0.2 प्रतिशत बढ़कर 234.6 अंक से 235.1 अंक पर पहुंच गया। ईंधन, ऊर्जा, प्रकाश एवं लुब्रीकेंट्स का सूचकांक 14.23 प्रतिशत भारांक 341.4 अंक पर स्थिर बना रहा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: महंगाई ने तीन साल का रिकॉर्ड तोड़ा