DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खबरें कोयला जगत की।

ोल इंडिया को हड़ताल का नोटिसड्ढr रांची। द झारखंड कोलियरी मजदूर यूनियन ने 28 अप्रैल को प्रस्तावित हड़ताल का नोटिस कोल इंडिया अध्यक्ष को शुक्रवार को दिया। सदस्य कामगारों को 15 प्रतिशत अंतरिम राहत (आइआर) देने का विरोध कर रहे हैं। महासचिव सनत मुखर्जी के अनुसार उन्हें फैक्स और कुरियर दोनों से यह भेजा गया है। सीसीएल एवं सीएमपीडीआइ प्रबंधन को भी यह दिया गया है। अन्य कंपनियों में भी इसे भेजा जा रहा है। नोटिस में उन्होंने 40 फीसदी आइआर या 40 से 80 हाार रुपये एडहॉक पेमेंट देने की मांग की है। दस साल के लिए वेतन समझौता करने की बात कही है। इसमें न्यूनतम वेतन 27000, अधिकारियों की तरह सुविधाएं एवं जेबीसीसीआइ में बैठने वाले गैर कोयला कामगारों को समझौता से बाहर रखने की मांग की है। इन मांगों को पूरा नहीं करने पर हड़ताल की धमकी दी है।ड्ढr यूनियन की बैठक में हड़ताल पर चर्चाड्ढr रांची। द झारखंड कोलियरी मजदूर यूनियन के सदस्यों की बैठक दरभंगा हाउस स्थित कार्यालय में 11 अप्रैल को हुई। इसमें 28 अप्रैल को प्रस्तावित हड़ताल को सफल बनाने पर चर्चा हुई। हड़ताल सफल बनाने के लिए मीटिंग, दौरा करने और जनसंपर्क आदि चलाने की रणनीति तय की गयी। इसमें सनत मुखर्जी, वासुदेव कुम्हार, संटू गांगुली, एके पांडेय, गौतम मांझी, उमेश सिंह, रणवीर मौजूद थे।ड्ढr एमजीएमआइ का सेमिनार कलड्ढr रांची। एमजीएमआइ की रांची शाखा के तत्वावधान में 13 अप्रैल की शाम पांच बजे से स्टेशन रोड स्थित होटल ग्रीन होराक्षन में सेमिनार का आयोजन होगा। सचिव सह को-ऑर्डिनेटर पीयूष कुमार ने बताया कि इसका विषय टेक्नोलॉजिकल एडवांसमेंट इन ओपेन कास्ट माइनिंग है। विषयवस्तु पर एलएंडटी, सीसीएल और सीएमपीडीआइ की ओर से एक-एक पेपर प्रस्तुत किया जायेगा। ओपेन कास्ट में अपनायी जाने वाली नयी तकनीक पर चर्चा होगी। सीएमपीडीआइ के सीएमडी एके सिंह और सीसीएल के आरपी रिटोलिया सहित अन्य सदस्य इसपर चर्चा करंगे।ड्ढr छह लाख टन उत्पादन हुआड्ढr रांची। सीसीएल ने अप्रैल 08 में अब तक करीब छह लाख टन कोयले का उत्पादन किया गया है। यह गत वर्ष से सात फीसदी एवं 50 हाार टन ज्यादा है। इस माह कंपनी ने 3लाख टन उत्पादन का लक्ष्य रखा है।ड्ढr सचिवालय कर्मी 16 को सामूहिक अवकाश परड्ढr रांची। झारखंड सचिवालय सेवा गठन की मांग को लेकर कर्मचारियों का तीन दिवसीय विरोध कार्यक्रम 11 अप्रैल को समाप्त हो गया। 16 अप्रैल को कर्मचारियों ने सामूहिक अवकाश पर जाने का कार्यक्रम निर्धारित किया है। इस संबंध में कल्याण विभाग के सतीश कुमार और अरुण कुमार ने बताया कि सेवा गाठन नहीं होने के कारण उन लोगों की प्रोन्नति बाधित हो रही है। पिछले तीन सालों से कर्मचारी सचिवालय सेवा गठन की मांग कर रहे हैं।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: खबरें कोयला जगत की।