class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईआईटी-आईआईएम में कोटे पर भ्रम नहीं:अर्जुन

ेन्द्र सरकार ने शुक्रवार को इस बात से इनकार किया कि आईआईटी और आईआईएम में 27 फीसदी ओबीसी आरक्षण लागू करने में किसी तरह का भ्रम है। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के आलोक में सरकार चार-पाँच दिन के भीतर इन संस्थानों को दिशानिर्देश जारी करगी। एम्स भी इसी सत्र से ओबीसी कोटा लागू करेगा।ड्ढr मानव संसाधन मंत्री अजरुन सिंह ने संवाददाताओं से कहा कि आईआईटी और आईआईएम में अन्य पिछड़े वर्गो के लिए 27 फीसदी कोटा लागू होगा और इस मुद्दे पर कोई असमंजस नहीं है। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से इस मुद्दे पर चर्चा के बाद अजरुन सिंह ने कहा कि ओबीसी आरक्षण सभी केन्द्रीय शिक्षण संस्थानों में लागू किया जाएगा। ओबीसी कोटे का मुद्दा शुक्रवार को मंत्रिमंडल की बैठक में भी उठा। मानव संसाधन विकास मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘हमार पास कुछ समय है। विचार-विमर्श चल रहा है। इसी सत्र में आरक्षण देने के लिए जल्द ही तकनीकी और प्रबंधन संस्थानों को सामान्य निर्देश जारी कर दिए जाएँगे।’स्वास्थ्यमंत्री डॉ.अंबुमणि रामदास ने बताया कि केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के तहत आने वाले सभी 12 संस्थानों में कोटा लागू करने की कार्रवाई सरकार इसी साल शुरू करगी।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आईआईटी-आईआईएम में कोटे पर भ्रम नहीं:अर्जुन