DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

। दिल्ली गये थे साथ लौटे तो तीन फांक

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष पीएन सिंह और प्रतिपक्ष के नेता अजरुन मुंडा के विरोध में एकाुट हो दिल्ली गये भाजपा विधायक रांची लौटते ही तीन फाड़ हो गये हैं। पीएन सिंह का कोई एक विकल्प देने में विफल रहे भाजपा के इन विधायकों के तीन-तीन पसंद हो गये हैं। वहीं राज्य के 12 जिलाध्यक्षों ने नौ अप्रैल को दिल्ली में पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री रामलाल से मिल कर पीएन सिंह की ही पैरवी की है। उन्होंने सिंह को प्रदेश अध्यक्ष बनाये रखना पार्टी हित में बताया है।ड्ढr पूर्व सांसद अजय मारू और प्रदेश भाजपा के पूर्व अध्यक्ष रघुवर दास के नेतृत्व में भाजपा के एक दर्जन विधायक दिल्ली में मुख्य रूप से पीएन सिंह का विरोध करने गये थे। सूत्रों के अनुसार वहां से जब ये लौटे हैं तो छत्रुराम महतो, लोकनाथ महतो और रामचंद्र बैठा की पसंद रामटहल चौधरी बताये जा रहे हैं। पार्टी के भीतर नीलकंठ मुंडा और कोचे मुंडा का कहना है कि कड़िया मुंडा क्यों नहीं अध्यक्ष हो सकते हैं। वहीं योगेश्वर महतो बाटुल, अशोक कुमार, चंद्रेश उरांव, समीर उरांव, राज पालिवाल और केदार हाजरा में अधिकतर विधायकों का झुकाव अजरुन मुंडा की ओर हो गया है। इससे विक्षुब्धों की रणनीति को भारी धक्का पहुंचा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: । दिल्ली गये थे साथ लौटे तो तीन फांक