class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रोहतास में मारे गए नक्सलियों का गया में अंतिम संस्कार

रोहतास थाने की कैमूर पहाड़ी स्थित हसुलिया गांव के समीप नक्सली संगठन भाकपा-माओवादी के मारे गए पीपुल्स सशस्त्र मोर्चा के छह सदस्यों की अंत्येष्टि कड़ी सुरक्षा में विष्णुपद श्मशान घाट में की गई। मारे गए भाकपा-माओवादी के बागियों में चार गया जिले के थे। पुलिस ने बताया कि कैमूर पहाड़ी क्षेत्र में मारे गए नक्सलियों की लाश शुक्रवार की सुबह यहां पहुंची ।ड्ढr ड्ढr जिसकी अंत्येष्टि विष्णुपद श्मशान घाट में की गई। विदित हो कि मोहनपुर थाने के मटगढ़ा गांव के शिव कुमार यादव, बाराचट्टी थाने के गरवइयां गांव के शंभू यादव, इमामगंज के पसेवा गांव का कुलदीप पासवान और मोहनपुर थाने के लंगुरा -झंगुरा गांव के एक बागी साथी को भाकपा-माओवादी के दस्ते ने बुधवार की रात को कैमूर पहाड़ी क्षेत्र में मार दिया था। बताया जाता है कि मारे गए लोग भाकपा-माओवादी से बागी होकर पीपुल्स सशस्त्र मोर्चा बनाया था। भाकपा-माओवादी से एक समझौता वार्ता करने के लिए ये लोग कैमूर पहाड़ी पर गए हुए थे । मार गये नक्सलियों की हुई शिनाख्तड्ढr सासारामबंजारी (नि.प्र.सं.सू.)। रोहतास थाना क्षेत्र के कैमूर पहाड़ी जंगल में बुधवार को आपसी टकराव में मार गये छह नक्सलियों में पांच की पहचान पुलिस ने कर ली है, जिनके शव को उनके परिानों को सौंप दिया गया है।ड्ढr एक नक्सली की पहचान नहीं हो सकी है। इसकी जानकारी देते हुए पुसिल अधीक्षक जे.एस.गंगवार ने बताया कि मार गये नक्सलियों में कुलदीप पासवान पसेवा (इमामगंज), शंभू यादव (गरवईयां, बाराचट्टी), शिवकुमार यादव (मटगढ़ा, मोहनपुर) जिला गया के बताये जाते हैं, जबकि डब्लू उर्फ माली उर्फ सुखदेव और अमित उर्फ सहेन्द्र राजपुर सदर थाना चतरा (झारखंड) के बताये जाते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रोहतास में मारे गए नक्सलियों का गया में अंतिम संस्कार