DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकार और हंगामों की बहार

प्रांतीय असेम्बलियां गठित हो रही है। उत्तर पश्चिम सीमाप्रांत में अवामी नेशनल पार्टी (एएनपी) और पीपीपी ने मिलीजुली सरकार बना ली। एएनपी के अमीर हैदर खान ‘होती’ ने मुख्यमंत्री का ओहदा संभाल लिया। होती स्वर्गीय खान अब्दुल वली खान के पौत्र और इनके परदादा अमीर हैर होती खान अब्दुल गफ्फार खान के साथियों में थे। अपने पहले ही राूलेशन में सदन ने मांग की कि अमेरिका देश के आंतरिक मामलों में दखल छोड़ दे। इस प्रांत में अमेरिका सरकार के खिलाफ बड़ा रोष है। यह कहा जा रहा है कि अगर पाकिस्तान भारत और इÊारायल से बातचीत कर सकता है तो हम तालिबानियों से क्यों नहीं। असेम्बली में हंगामाड्ढr पहली ही बैठक में जब शपथ ग्रहण की प्रक्रिया चल रही थी, जीये जुल्फिकार अली भुट्टो और बेनजीर जिन्दाबाद के नार बुलंद हुए। पिछले मुख्यमंत्री डॉ. अरबाब गुलाम रहीम को सदन में आने से रोका गया और वह शपथ भी न ले सके। उन्होंने इल्जाम लगाया है कि पीपीपी वालों ने मेर साथ मारपीट की। उनकी पार्टी ने यह भी इल्जाम लगाया है कि हमारी महिला सदस्यों को भी नहीं बख्शा गया। इस घटना पर प्राय: सभी पत्रों ने निन्दा की है। ‘डॉन’ और ‘नवाएवक्त’ ने लिखा है कि यह मान भी लिया जाए कि पिछली सरकार के प्रति भारी रोष था, पर इस प्रकार की गुंडागर्दी प्रजातंत्र में बर्दाश्त नहीं करनी चाहिए। इस घटना के चलते एमक्यूएम ने सदन से वाक आउट कर दिया और मिलीजुली सरकार बनाने की प्रक्रिया को स्थगित कर दिया। अब उन्हें मनाने की कोशिशें चल रही हैं। फिर भी सदन ने जल्दी-ाल्दी में तीन राूलेशन पास कर दिए। पहला, केन्द्र सरकार को बताया जाए कि जुल्फिकार अली भुट्टो की फांसी को कानूनी कत्ल करार दिया जाए। और सरकार इसके लिए माफी मांगे। दूसरा, ‘जिला नवाब शाह’ को बेनजीर भुट्टो का नाम दिया जाए। और तीसरा, केन्द्र संयुक्त राष्ट्र संघ से बेनजीर भुट्टो के कत्ल की जांच कराए। और हंगामेड्ढr पिछली कामचलाऊ सरकार के कानून मंत्री डा. शेर अफगान कुरशी की भी पिटाई हो गई। ‘दि न्यूज’ ने बताया कि कई सौ वकीलों ने डॉ. अरबाब को उनके वकील के दफ्तर में घेर लिया। चार घंटे तक नारबाजी की और वह दफ्तर में छुपे रहे। बाद में उन्हें एतजाज अहसन द्वारा एम्बुलेंस तक ले जाया गया। इस दौरान वकीलों ने मारपीट कर उनके कपड़े तक फाड़ दिए और एम्बुलेंस के शीशे भी तोड़ दिए। एक धमाका लाहौर के मिशरी शाह इलाके में हुआ, जहां 8 लोग मार गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सरकार और हंगामों की बहार