DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एनसी ने लद्दाख सीट पर कांग्रेस का दावा स्वीकारा

लद्दाख लोकसभा सीट पर प्रत्याशी को लेकर जम्मू एवं कश्मीर में सत्तारूढ़ गठबंधन के सहयोगियों के बीच गतिरोध खत्म हो गया है। नेशनल कांफ्रेंस के समर्थन से राज्य के इस ठंडे रेगिस्तानी क्षेत्र से कांग्रेस अपना उम्मीदवार उतारेगी। नेशनल कांफ्रेंस के सूत्रों के अनुसार पार्टी प्रमुख फारुक अब्दुल्ला ने मंगलवार को कांग्रेस हाई कमान से नई दिल्ली में मुलाकात की, जहां लद्दाख संसदीय क्षेत्र का मुद्दा सुलझा लिया गया। दोनों दलों की समन्वय समिति की पिछले सप्ताह हुई बैठक में इस सीट पर नेशनल कांफ्रेंस के दावे के कारण गतिरोध पैदा हो गया था। नेशनल कांफ्रेंस का तर्क था कि लद्दाख संसदीय क्षेत्र की चार विधानसभा सीटों में से पिछले नवंबर-दिसम्बर में हुए चुनाव में उसने कारगिल और जास्कर पर जीत हासिल की है। कांग्रेस को केवल एक सीट पर विजय मिली है। उसके उम्मीदवार नवांग रिगजिन लेह से फिर निर्वाचित हुए हैं। अब नेशनल कांफ्रेंस कश्मीर घाटी की श्रीनगर, बारामुला और अनंतनाग संसदीय सीटों पर उम्मीदवार उतारेगी। कांग्रेस ने पहले ही जम्मू से मदन लाल शर्मा और उधमपुर से चौधरी लाल सिंह को अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया है। राज्य में छह संसदीय सीटें हैं और कांग्रेस तथा नेशनल कांफ्रेंस तीन-तीन सीटों पर उम्मीदवार उतारेंगी। राज्य में पांच चरणों में 16, 23 और 30 अप्रैल तथा 7 एवं 13 मई को मतदान होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एनसी ने लद्दाख सीट पर कांग्रेस का दावा स्वीकारा