DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फायरिंग रंचा में मौत के विरोध में ग्रामीणों ने की सड़क जाम

जिले के बाराचट्टी थाना क्षेत्र में गोही-खजुराईन स्थित सेना के फायरिंग रेंज में आने से शुक्रवार को हुई दो युवकों की मौत के मामले को लेकर शनिवार को आक्रोशित ग्रामीणों ने घंटों सड़क जाम की। ग्रामीण शवों को सामुदायिक भवन में रखकर इस मामले की जांच कराने व मुआवजे की मांग पर अडिग थे। घटना के 20 घंटे बाद पुलिस वहां पहुंची तथा ग्रामीणों को समझाबुझाकर शवों को पोस्टमार्टम के लिए अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कालेज अस्पताल भेज दिया।ड्ढr ड्ढr इस संबंध में जिला पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि मामले की जांच करने का आदेश संबंधित एसडीओ को दिया गया है। उन्होंने बताया कि जांच रिपोर्ट सरकार को भेजी जाएगी। इस मामले में बाराचट्टी थाने में एक्सीडेंटल केस किया जाएगा। जिला पुलिस के पीआरओ व आरक्षी उपाधीक्षक राजवंश सिंह ने बताया कि मृतक के पिता परमेश्वर सिंह भोक्ता की शिकायत पर मामला दर्ज कर इसकी जांच की जाएगी। श्री सिंह ने बताया कि कि घटनास्थल आर्मी का फायरिंग रेंज है और फायरिंग करने के लिए पूर्व में ही तिथि निर्धारित की जाती है तथा लाल झंडा भी लगाया जाता है।ड्ढr ड्ढr विदित हो कि सेना की फोयरिंग में शुक्रवार को गणेश सिंह भोक्ता तथा गोविंद सिंह भोक्ता की मौत हो गई थी। वही सरयू सिंह, पोखन सिंह तथा तिलक सिंह गंभीर रूप से घायल हो गए। जानकारी हो कि बभनदेव त्रिलोकापुर से सेना द्वारा दागा गया गोला गोही पहाड़ पर गिरता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: फायरिंग रंचा में मौत के विरोध में ग्रामीणों ने की सड़क जाम