DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दुमका में बीएसएनएल के 13 कर्मचारी बर्खास्त

भारत संचार निगम लिमिटेड(बीएसएनएल) के दुमका  में कार्यरत 13 कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया गया है। सभी रेगुलर मजदूर के पद पर काम कर रहे थे। आरोप है कि वर्ष 1998 में उनकी सेवा को गलत ढंग से संपुष्ट कर दिया गया था। कर्मचारियों को सेवा से हटा दिए जाने की पुष्टि दुमका के टीडीएम सुनील प्रसाद ने की है। टीडीएम ने बताया कि काफी दिनों से यह मामला कोर्ट में लंबित था।

कोर्ट से कर्मचारियों के खिलाफ फैसला आने के बाद उन्हें हटा दिया गया है। कर्मचारियों की सेवा बर्खास्तगी की सूचना झारखंड दूर संचार सर्किल के सीजीएमटी सहित सभी वरीय अधिकारियों को भेज दी गई है। अधिकारियों को आशंका है कि कर्मचारियों को सेवा से बर्खास्त किए जाने की प्रतिक्रिया में बीएसएनएल कार्यालय परिसर में कोई घटना हो सकती है। इसे टालने के लिए पुलिस के बड़े अधिकारियों और दुमका टाउन थाने को भी मामले की सूचना देकर सुरक्षा मांगी गई है।

टीडीई बी.सी यादव ने किया था कंफर्म
वर्ष 1998 में तत्कालीन टीडीई बी.सी. यादव ने अपने पत्रांक 25/टीएसएम/डीआरएम/95-96/38 दिनांक 9.3.98) के द्वारा 14 कर्मचारियों को गलत ढंग से कंफर्म कर दिया था। इनमें एक कर्मचारी संजीव कुमार झा की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई है। शेष 13 अभी तक काम कर रहे थे, जिन्हें अब हटा दिया गया है।

बर्खास्त कर्मचारियों की सूची
सुरेन्द्र कुमार वर्मा, मोहन चौधरी, इंद्रदेव यादव, अभय शंकर झा,श्याम बिहारी, कमलेश कांत यादव, राधेश्याम यादव, लालबाबू चौधरी, भोला चौधरी, दिलीप कुमार, राज कुमार यादव, अरुण कुमार, उत्तम कुमार मंडल

अधिकांश बर्खास्त कर्मचारी हैं बिहार के
बीएसएनएल में 1998 से काम कर रहे जिन 13 कमर्चारियों को सेवा से बर्खास्त किया गया है उनमें केवल एक कर्मचारी दुमका का  है। सूची में एक मात्र उत्तम कुमार मंडल के पता में दुधानी,दुमका लिखा हुआ है। अन्य सभी बर्खास्त कर्मचारी बिहार से हैं। हटाए गए कर्मचारियों में 4 लोग दरभंगा जिला के निवासी हैं। मुंगेर जिले के 3 लोग हैं जबकि 2 कर्मचारी पटना जिले के  रहने वाले हैं। मधुबनी और बांका जिले के भी एक-एक कर्मचारी अपनी बहाली कराने में सफल रहे थे । बर्खास्त कर्मचारी सुरेन्द्र कुमार के सही पता की जानकारी बीएसएनएल कार्यालय के पास नहीं है।

बर्खास्तगी दुर्भाग्यपूर्ण: एफ.एन.टी.ओ.
फेडरेशन ऑफ नेशनल टेलीकॉम आर्गेनाइजेशन(एफ.एन.टी.ओ.) के जिला अध्यक्ष विपिन बिहारी प्रसाद ने दुमका जिला दूरसंचार कार्यालय में 15 वर्षों से कार्यरत कर्मचारियों को सेवा से बर्खास्त किए जाने पर एतराज जताया है। श्री प्रसाद ने कहा कि 15 साल के बाद किसी को सेवा से हटा देना दुर्भाग्यपूर्ण है। अब किसी की उम्र भी नहीं बची है कि वे दूसरी जगह नौकरी कर सकें। एफ.एन.टी.ओ. के जिला अध्यक्ष ने कहा कि इसका विरोध होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दुमका में बीएसएनएल के 13 कर्मचारी बर्खास्त