DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हर साल वैसाखी पर पटना साहिब महोत्सव होगा

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि पटना साहिब महोत्सव को लोक महोत्सव बनाया जाएगा। इसमें आम लोगों की अधिक से अधिक भागीदारी सुनिश्चित की जानी चाहिए। यह महोत्सव अब हर साल वैसाखी की पूर्व संध्या पर आयोजित होगा। पर्यटन विभाग के कैलेंडर में इसे शामिल कर लिया गया है। उन्होंने इसे मुख्य समारोह के दस-पंद्रह दिन पहले से ही आयोजित करने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि पटना साहिब की समस्याओं को बारी-बारी से दूर करने का प्रयास किया जाएगा। असली पटना तो पटना सिटी ही है।ड्ढr ड्ढr मुख्यमंत्री श्री कुमार शनिवार को ऐतिहासिक मंगल तालाब परिसर में पर्यटन विभाग व जिला प्रशासन द्वारा पहली बार आयोजित पटना साहिब महोत्सव का उद्घाटन कर रहे थे। उन्होंने लोगों से प्रम, भाईचारा व सांप्रदायिक सौहार्द बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि इससे ही बिहार तरक्की के रास्ते पर आग बढ़ सकेगा। आपस में नहीं लड़े बल्कि गरीबी से लड़े। तभी बिहारी कहलाना शान कहलाएगा। भाषण के दौरान उन्होंने पथनिर्माण मंत्री नन्दकिशोर यादव की तारीफ करते हुए कहा कि सब कुछ ये करते हैं पर श्रेय मुझे देते हैं। अपना भाषण संक्षिप्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हम बखूबी जानते हैं कि लोगों की भीड़ हमें सुनने नहीं बल्कि सांस्कृतिक कार्यक्रम का रसास्वादन करने आयी है। पथ निर्माण व पर्यटन मंत्री नन्दकिशोर यादव ने कहा कि अब तक पटना सिटी की उपेक्षा होती रही है। यहां के विकास के लिए कुछ नहीं किया गया है। अब विकास काम हो रहे हैं तो राजद वाले विरोध कर रहे हैं। उनके मुताबिक खाजेकलां घाट के सौंदर्यीकरण पर 1.2 करोड़,भद्रघाट पर 0 लाख खर्च होगा। बाकी घाटों का भी सौंदर्यीकरण किया जाएगा।ड्ढr ड्ढr इस अवसर पर बिहार चैम्बर ऑफ कामर्स के अध्यक्ष ओपी साह, उपमहापौर संतोष मेहता, अल्पसंख्यक आयोग के उपाध्यक्ष चरण सिंह,हरमंदिर साहिब प्रबंधक कमिटी के सचिव राजा सिंह, विधायक अरुण कुमार सिन्हा, मुख्य ग्रंथी राजेन्द्र सिंह ने भी अपने विचार रखे। पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव विवेक सिंह ने स्वागत भाषण करते हुए कहा कि विभाग द्वारा केसरिया व विक्रमशिला महोत्सव का भी आयोजन किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हर साल वैसाखी पर पटना साहिब महोत्सव होगा