अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ओलंपिक मशाल को मिलेगी मुशर्रफ जितनी सुरक्षा

ओलंपिक की मशाल को पाकिस्तान के राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ के बराबर सुरक्षा प्रदान की जाएगी। मशाल बुधवार को पहली बार इस्लामाबाद आ रही है। पाकिस्तान ओलंपिक ऐसोसिएशन के अध्यक्ष लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) सैयद आरिफ हसन ने बताया कि इस्लामाबाद उन 22 स्थलों में से एक है, जहां से ओलंपिक की मशाल होकर गुजरगी। यहां मशाल तकरीबन 80 चुनी हुई हस्तियों के हाथों से होकर गुजरगी। अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तान में मशाल के स्वागत के लिए सख्त सुरक्षा व्यवस्था की गई है। खेल मंत्री ख्वाजा आसिफ ने एक बयान में कहा, ‘मशाल दौड़ में हिस्सा लेने वाले सभी प्रतिभागियों को देश प्रमुख के स्तर की सुरक्षा मुहैया कराई जाएगी।’ उन्होंने कहा कि जिन शहरों से मशाल होकर गुजरगी उनमें इस्लामाबाद का नाम होना पाकिस्तान और चीन के बीच गहरी और आजमाई हुई दोस्ती का सबूत है। ओलंपिक की मशाल 16 अप्रैल को मस्कट से पाकिस्तान पहुंचेगी। इसी दिन इसे नई दिल्ली लेड्ढr जाया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ओलंपिक मशाल को मिलेगी मुशर्रफ जितनी सुरक्षा