अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छपरा में मुठभेड़ में कुख्यात बद्री मारा गया, डीएसपी घायल

छपरा कोर्ट में गत वर्ष पेशी के दौरान फरार हुए दर्जन भर से ज्यादा हत्या, लूट, डकैती, विस्फोट, वाहन चोरी कांडों का वांछित कुख्यात अपराधी बद्री तातवां पुलिस मुठभेड़ में मारा गया। यह मुठभेड़ सोमवार को दिनदहाड़े लगभग एक बजे शहर के नेहरू चौक के निकट हुई। दोनों तरफ से दर्जनों चक्र गोलियां चलने के दौरान उसे पुलिस की दो गोलियां लगी, जिसके बाद अस्पताल ले जाने के दौरान ही उसने दम तोड़ दिया। इस दौरान डीएसपी आर.के. कर्ण भी चोटिल हो गए। उनका उपचार सदर अस्पताल में हुआ। पुलिस ने मुठभेड़ स्थल से उसके द्वारा उपयोग किया गया कट्टा, खोखा तथा दो गोलियां जब्त की है।ड्ढr ड्ढr एसपी संजय सिंह के अनुसार डीएसपी के नेतृत्व में गठित टास्क फोर्स में नगर पुलिस इंस्पेटर जयराम शर्मा, गडख़ा थानाध्यक्ष मेराज हसन और मांझी थानाध्यक्ष आफताब आलम को सूचना मिली कि मढ़ौरा थाने के विशुनपुर जगदीश का बद्री अपने एक अन्य साथी के साथ किसी घटना को अंजाम देने की योजना बना रहा है।ड्ढr इसी पर टास्क फोर्स के सदस्य नेहरू चौक के पास पहुंचे किन्तु पुलिस को देखते ही बद्री गोलियां चलाने लगा। पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की और उसे दो गोलियां लगी। बावजूद वह भागने लगा तब तक डीएसपी पकड़ने के लिए दौड़े परन्तु फिसलकर गिर पड़े जिससे उन्हें गंभीर चोट लगी परन्तु टीम में शामिल अन्य पुलिस अधिकारियों ने उसे धर दबोचा। हालांकि उसका एक अन्य साथी भागने में सफल रहा। उन्होंने बताया कि 16 जुलाई 07 को छपरा कोर्ट परिसर से फरार तातवां के खिलाफ मढ़ौरा, गडख़ा, अमनौर, तरैया नगर आदि थानों में लगभग 15 मामले दर्ज हैंै।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: छपरा में मुठभेड़ में कुख्यात बद्री मारा गया, डीएसपी घायल