DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लालू ने पकड़ी सड़क तो खिंची चली आई भीड़

यह लालू प्रसाद का सर्वाधिक प्रचलित और मिलनसार रूप था, जिसे उनके क्षेत्र के मतदाता देख रहे थे। पूर दिन के व्यस्त कार्यक्रम के बाद वह बुधवार की शाम गांवों के अपने कार्यकर्ताओं से रू-ब-रू हो रहे थे। उनसे हाथ मिला रहे थे। गुजर दिनों को याद कर रहे थे और बीच- बीच में किसी घटना का जिक्र कर सबको विस्मित भी कर दे रहे थे।ड्ढr गडख़ा के नारायणडीह में अपनी चुनावी सभा में हेलीकॉप्टर से पहुंचे लालू ने शाम होने के बाद रोड शो की शुरुआत कर दी। यहां से वे करीब आधा किलोमीटर तक वह कार से गये। फिर अपने गरीब चेतना रथ पर सवार होकर आगे बढ़े। रास्ते में कई गांवों के कार्यकर्ताओं ने उनका जबर्दस्त स्वागत किया।ड्ढr ड्ढr नरांव पहुंचने पर कार्यकर्ताओं ने उनके जिन्दाबाद के नार लगाये और लालू ने भी क्षेत्र के लोगों के साथ पुराने संबंधों की याद ताजा की। फिर वे हराजी की ओर बढ़े। जगह-जगह उनसे मिलने के लिये कार्यकर्ता खड़े थे। अपने रथ से उतर लालू ने लोगों से पूछा - ‘का हो का हालचाल बा। अबकी के चुनाव में सावधान रहऽ लोग।’ जिसको भी लालू प्रसाद के रोड से आने की खबर लगती, वह पूर उत्साह और उमंग में अपने गांव के मुहाने पर आ जाता। लोगों की भीड़ और लालू के मिलने का अंदाज ही था कि करीब साढ़े छह बजे शाम में शुरू उनका रोड शो साढ़े नौ बजे रात तक नवलटोला तक ही पहुंचा था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: लालू ने पकड़ी सड़क तो खिंची चली आई भीड़