DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सड़कों के लिए 1050 करोड़ का प्रोजेक्ट सौंपा?3द्वद्यज्ठ्ठड्डद्वद्गह्यश्चड्डष्द्ग श्चrद्गथ्न्3 = o ठ्ठह्य = ह्वrठ्ठज्ह्यष्द्धद्गद्वड्डह्य-द्वन्ष्roह्यoथ्ह्ल-ष्oद्वज्oथ्थ्न्ष्द्गज्oथ्थ्न्ष्द्ग

नक्सल प्रभावित इलाकों में सड़क का नेटवर्क खड़ा करने के लिए झारखंड ने केंद्र को 1050 करोड़ का प्रोजेक्ट सौंपा है। नक्सल प्रभावित राज्यों में सड़कों के सुदृढ़ीकरण को लेकर मंगलवार को दिल्ली में उच्चस्तरीय बैठक हुई। केंद्र सरकार ने इस मसले को गंभीरता से लिया है। केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्रालय (एमओएचएसटी) के सचिव, डीाी, एनएचएआइ के चेयरमैन के साथ आठ राज्यों के पथ सचिव तथा आला इंजीनियर शामिल हुए। झारखंड से पथ सचिव एनएन सिन्हा, एनएच के चीफ इंजीनियर विष्णु राम प्रोजेक्ट लेकर गये थे। झारखंड से लगे नक्सल प्रभावित बिहार, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश जसे राज्यों के साथ भी अफसरों ने विचार- विमर्श किया। राज्य में 1140 किलोमीटर सड़क नक्सली साया से गुजरती है। इनमें 640 किमी एनएच का हिस्सा है। केंद्र ने झारखंड के प्रोजेक्ट पर गौर किया है। 1050 करोड़ के प्रोजेक्ट में सीआरएफ तथा एनएच के लिए विशेष राशि की मांग की गयी है। बैठक में अफसरों ने यहां की समस्याएं भी गिनायीं। यह भी बताया कि प्रभावित इलाकों में कैसे काम चल रहा है और क्या प्रगति है। टेंडर, क्वालिटी तथा कार्यप्रगति के मामले में भी बिंदुवार चर्चा की गयी। सचिव ने सुदूर इलाकों में एनएच के चौड़ीकरण पर जोर दिया। इसके अलावा उन इलाकों में निर्माण कार्य के लिए बैठाने वाले सेटअप को लेकर परशानी की भी जानकारी दी। सचिव ने बैठक को विकास के मायने से महत्वपूर्ण बताया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सड़कों के लिए 1050 करोड़ का प्रोजेक्ट सौंपा?3द्वद्यज्ठ्ठड्डद्वद्गह्यश्चड्डष्द्ग श्चrद्गथ्न्3 = o ठ्ठह्य = ह्वrठ्ठज्ह्यष्द्धद्गद्वड्डह्य-द्वन्ष्roह्यoथ्ह्ल-ष्oद्वज्oथ्थ्न्ष्द्गज्oथ्थ्न्ष्द्ग