अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जंक्शन को उड़ाने की खबर से खलबली

पटना जंक्शन को नक्सलियों द्वारा उड़ाने की धमकी की सूचना मिलने के बाद मंगलवार को अफरातफरी रही। खबर एक टीवी चैनल को मिली थी जहां से रल पुलिस व अन्य जगहों पर जानकारी भेजी गई। डॉग स्क्वायड के साथ जीआरपी ने स्टेशन के चप्पे-चप्पे को खंगालने के बाद ट्रनों में भी गहन छानबीन की लेकिन कहीं कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला। रल पुलिस और आरपीएफ अधिकारियों ने बताया कि नक्सलियों के बंद और झाझा हमले को लेकर पहले से ही जंक्शन समेत पूरे दानापुर मंडल में सतर्कता बरती जा रही है। नक्सलियों के खतर को लेकर डॉग स्क्वायड की मदद से ट्रन, पटरी से लेकर प्लेटफॉर्म तक गहन छानबीन की जा रही है। इधर चैनल कर्मियों ने बताया कि दिन में किसी ने नई दिल्ली स्थित कार्यालय में मोबाइल (03) से सूचना देते हुए कहा था कि पटना जंक्शन को नक्सलियों द्वारा उड़ा दिया जायेगा। नाम-पता पूछे जाने पर उसने खुद की हत्या की आशंका जताने हुए बताने से इनकार कर दिया था।ड्ढr ड्ढr थोड़ी देर बाद जब उस मोबाइल नंबर पर संपर्क साधने की कोशिश की गई तो स्वीच ऑफ मिला। फिर जब संबंधित नंबर की छानबीन की गई तो वह धनबाद के सोनारडीह निवासी कामता गोसाई के नाम पर निकली। वैसे इससे पहले भी कई बार जंक्शन या ट्रन को उड़ाने की धमकी या सूचना मिली है लेकिन कभी कोई विस्फोटक नहीं मिला और न हीघटना हुई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जंक्शन को उड़ाने की खबर से खलबली