DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बच्ची की मौत पर पीएमसीएच में बवाल

पीएमसीएच के शिशु विभाग में बुधवार को एक बच्ची की मौत पर जमकर बवाल हुआ। मौत से गुस्साए परिानों ने एक नर्स की पिटाई कर दी। इसके बाद नर्सो ने भी सुरक्षा की की मांग को लेकर तीन घंटे तक अधीक्षक कार्यालय का घेराव किया और शिशु विभाग का कामकाज ठप कर दिया। हंगामे की वजह से आठ बजे से 11 बजे तक शिशु विभाग में अफरातफरी मची रही। घटना के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार बाकरगंज निवासी धीरन्द्र पाठक ने अपनी बेटी रानी कुमारी (7 वर्ष) को इलाज के लिए पांच अप्रैल को भर्ती कराया था। बुधवार की सुबह करीब छह बजे नर्स द्वारा जब बच्ची को इंोक्शन दिया गया तो उसके थोड़े देर बाद बच्ची की मौत हो गयी। उसकी मौत से आक्रोशित परिानों ने नर्स रणु देवी की पहले तो वार्ड में ही धुनाई कर दी। मामला शांत होने पर फिर दोबारा उस नर्स को उसके परिानों ने बाहर पीटा। करीब आठ बजे हुई इस घटना के बाद पूरे शिशु विभाग में अफरातफरी मच गयी। परिानों की पिटाई से नर्स घायल हो गयी।ड्ढr ड्ढr इधर बच्ची के मामा सव्रेश ने नर्स पर डाक्टर से बिना पूछे इंोक्शन देने का आरोप लगाया। सव्रेश का कहना था कि इंोक्शन देने के थोड़ी ही देर बाद बच्ची का शरीर पीला पड़ने लगा और फिर मौत हो गयी। दूसरी ओर नर्सों का कहना था कि डाक्टर ने पुज्रे पर जो दवा लिखी थी वही दिया गया। बच्ची की हालत पहले से ही खराब थी। नर्स की पिटाई के विरोध में ठेका पर बहाल सभी नर्सों ने तीन घंटे तक कार्यबाधित कर दिया। अधीक्षक कार्यालय पहुंच कर नर्सो ने सुरक्षा की मांग को लेकर जमकर हंगामा किया। इस बीच मामले को शांत करने के लिए बच्ची के मामा को पकड़ कर पीरबहोर थाना भेज दिया गया। पीएमसीएच के प्रवक्ता डा. आर के सिंह ने काफी मुश्किल से मामले को शांत कराया। इस मामले में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। उन्होंने कहा कि भविष्य में इस तरह की घटना न हो इसके लिए चाक चौबंद की व्यवस्था की जा रही है। हालांकि इस घटना की कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है और न ही किसी की गिरफ्तारी हुई है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बच्ची की मौत पर पीएमसीएच में बवाल