class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आम लोगों की फजीहत, वीआईपी की बल्ले-बल्ले

बिजली आपूर्ति में भी आम व खास का फर्क। खास मोहल्लों में लगातार बिजली तो आम मोहल्लों में घंटों बिजली गुल रहने की नियति। पेसू द्वारा शहर में कुछ इसी अंदाज में बिजली की आपूर्ति की जाती है। बुधवार को कुछ वीआईपी इलाके में बिजली की निर्बाध आपूर्ति का खामियाजा भुगतना पड़ा आम मोहल्लों के बाशिंदों को। पेसू ने बुधवार को मीठापुर व गायघाट ग्रिड को सुबह 0 बजे से एक घंटे के लिए ‘शटडाउन’ रखा था। इसकी पूर्व सूचना दे दी गयी थी। लेकिन चेंजओवर समय पर नहीं हो सका और लगभग तीन घंटे एसके मेमोरियल हॉल फीडर से आपूर्ति बाधित रही। इसके चलते अशोकराजपथ व गांधी मैदान क्षेत्र के कई मोहल्लों में लगभग चार घंटे तक बिजली गुल रही। नतीजतन इस गर्मी में लोगों की हालत पतली हो गयी। पसीने से लथपथ लोग पेसू को कोसते रहे। हालांकि पीएमसीएच को वैकल्पिक व्यवस्था के तहत बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित की गयी थी।ड्ढr ड्ढr पेसू के महाप्रबंधक राजनाथ सिंह ने बताया कि इन ग्रिडों का शटडाउन एक घंटे के लिए निर्धरित था पर सही समय पर चेंजओवर संभव नहीं हो सका।बाद में दोपहर डेढ़ बजे के करीब विद्युत आपूर्ति सामान्य हो सकी। इस दौरान विद्युत भवन व हाईकोर्ट फीडर को निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित की गयी। उधर विद्युत बोर्ड के प्रवक्ता एसके घोष ने बताया किसेंट्रल सेक्टर से बुधवार को 0 मेगावाट, बरौनी व कांटी से लगभग 110 से 120 मेगावाट बिजली आयी। पेसू को 300 से 310 मेगावाट बिजली दी गयी। हालांकि गर्मी के चलते नियंत्रित कर बिजली आपूर्ति किए जाने से कई मोहल्लों में दोपहर व शाम में बिजली की आंखमिचौनी चली।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आम लोगों की फजीहत, वीआईपी की बल्ले-बल्ले